रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध 9 मई को हो जाएगा खत्म!

265
Russia-Ukraine war

रूस लगातार यूक्रेन पर हमला कर रहा है. दोनों देशों के बीच चल रहे युद्ध को एक महीने का वक्त पूरा हो गया है. इस बात का रूस को कतई अंदाजा नहीं था कि उसकी इतनी बड़ी सेना के आगे यूक्रेन इतने समय तक टिक पाएगा. इस बीच यूक्रेन की सेना ने एक बड़ा दावा किया है. सेना का कहना है कि रूस 9 मई तक युद्ध खत्म करना चाहता है. कीव इंडीपेंडेंट की रिपोर्ट के अनुसार, यूक्रेन के सशस्त्र बलों के जनरल स्टाफ के खुफिया सूत्रों ने दावा किया है कि रूसी सैनिकों से कहा गया है कि युद्ध 9 मई तक खत्म हो जाना चाहिए.

इस तारीख (9 मई) को रूस में व्यापक रूप से नाजी जर्मनी पर विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है. इसके अलावा यूक्रेन ने मास्को पर अपने हजारों नागरिकों को जबरन रूस ले जाने का आरोप लगाया है और दावा किया है कि उनमें से कुछ को ‘बंधक’ के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है, ताकि कीव पर युद्ध से पीछे हटने का दबाव बनाया जा सके. एसोसिएटेड प्रेस की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि यूक्रेन की अधिकारी ल्यूडमिला डेनिसोवा ने कहा कि 84000 बच्चों सहित 402,000 लोगों को उनकी इच्छा के विरुद्ध रूस ले जाया गया है.

नए प्रतिबंधों और मानवीय सहायता का दावा
दूसरी ओर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और अमेरिका के पश्चिमी सहयोगियों ने रूस पर नए प्रतिबंध लगाने और यूक्रेन को मानवीय सहायता देने का वादा किया है. हालांकि यूक्रेन के राष्ट्रपति व्लोदिमीर जेलेंस्की ने गुरुवार को उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) की आपात बैठक को संबोधित करते हुए ‘असीमित सैन्य सहायता’ की अपील की है.

‘मदद मांगने पर उत्तर नहीं मिलते’
यूक्रेन पर रूस के आक्रमण को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और दूसरे देशों के नेता नाटो सदस्यों के साथ आपात बैठकें करने वाले हैं. जेलेंस्की ने नाटो के साथ पहली बैठक की है. जेलेंस्की ने वीडियो के जरिए बैठक को संबोधित करते हुए कहा, ‘ऐसा प्रतीत हो रहा है जैसे हम पश्चिमी देशों और रूस के बीच फंसे हुए हैं और अपने साझा मूल्य की रक्षा कर रहे हैं. एक युद्ध के दौरान सबसे भयावह होता है, जब हमें मदद मांगने पर स्पष्ट उत्तर नहीं मिलते.’