पाकिस्तान में लाशों को रेप से बचाने के लिए क्रब पर ताला लगाने की खबरें गलत, हैदराबाद की है वायरल फोटो..

61

पाकिस्तान को लेकर एक बेहद ही हैरान करने वाली खबर पिछले दो-तीन दिनों से सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है. इस बताया गया कि पड़ोसी मुल्क में माता-पिता अपनी बेटियों और परिवार की महिला सदस्यों के शवों को बलात्कारियों से बचाने के लिए उनकी कब्रों पर स्टील की सलाखे और ताले लगा रहे हैं. हालांकि यह खबर बिल्कुल गलत निकली है और लोगों का दावा है कि इसके साथ शेयर की जा रही तस्वीर पाकिस्तान के किसी शहर की नहीं, बल्कि हैदराबाद की है.

कब्रों को लोहे के जाल और ताला लगाकर सुरक्षित कर रहे

दरअसल इस पहले डेली टाइम्स की रिपोर्ट में बताया गया था कि पाकिस्तान में नेक्रोफिलिया के मामले बढ़ रहे हैं, जहां पुरुष कब्रिस्तान से महिलाओं की कब्रों को खोदकर उनके शव के साथ बलात्कार कर रहे हैं. इसके चलते परिवार के लोग इन कब्रों को लोहे के जाल और ताला लगाकर सुरक्षित कर रहे हैं. डेली टाइम्स ने रिपोर्ट के साथ एक तस्वीर भी लगाई, हालांकि लोगों ने इस खबर को गलत करार देते हुए बताया कि यह तस्वीर भारत के हैदराबाद स्थित एक कब्र की है.

एक ट्विटर यूजर ने ट्वीट किया, ‘यह कब्र भारत में है न कि पाकिस्तान की. यह दराबजंग कॉलोनी, मदन्नापेट, हैदराबाद, तेलंगाना में है और इस कब्र पर ताला लगा दिया गया है ताकि कोई इस कब्र में किसी और को न दफनाए.’एक अन्य नेटिजन ने ट्वीट किया, ‘देखो सच्चाई कब्र से बाहर है! ‘ताला बंद’ कब्र हैदराबाद भारत के मदन्नापेट में स्थित है, पाकिस्तान में नहीं. स्थानीय लोगों का कहना है कि 60 वर्षीय महिला के परिवार ने जगह की सुरक्षा के लिए कब्र को लोहे की ग्रिल से बंद कर दिया.’ फ़िलहाल ट्विटर पर कई लोगों ने हैदराबाद स्थित उस कब्र की तस्वीरें और वीडियो भी शेयर किया है. हालांकि खबर लिखे जाने तक डेली टाइम्स ने अपनी रिपोर्ट को हटाया या खारिज नहीं किया है.