यूपी में पड़ रही इस कड़ाके की ठंड में ट्विटर पर दिख रही बीजेपी और सपा की गर्मी..

166
AK
AK

यूपी में इस समय कड़ाके की सर्दी पड़ रही है पर सियासी गलियारों में काफी गर्मी देखने को मिल रही है सोशल मीडिया पर शुरू हुई बीजेपी और सपा के बीच की लड़ाई अब थाने तक पहुंच गई है वहीं बीजेपी युवा मोर्चा की मीडिया सेल प्रमुख ऋचा राजपूत और सपा मीडिया सेल के मनीष जगन अग्रवाल को लेकर हुए विवाद को लेकर अखिलेश यादव ने भाजपा पर जमकर निशाना साधा.

पुलिस को बीजेपी चला रही

दरअसल अखिलेश यादव ने कहा कि सवाल भाषा का नहीं है आज तक जितनी भी तहरीर दी है किसी तहरीर पर कार्रवाई हुई हो तो बताएं इसका मतलब यह हुआ कि पुलिस को बीजेपी चला रही है सपा प्रमुख ने आगे कहा कि मैं ने पुलिस से कहा कि राजपूत ने ट्विटर पर लिखा जरूर है लेकिन बीजेपी के बड़े नेताओं के कहने से लिखा होगा कोई ना कोई उसके पीछे खड़ा है इसलिए इसको माफ कर दे आप एफआईआर.जरूर दर्ज कर ले लेकिन जेल भेजना जरूरी नहीं है हमारी ऐसी कोई शर्त नहीं है अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी के लोग होशियारी सा काम करती हैं धर्म और जाति का भी रूप दे सकते हैं किसी से क्या ट्वीट करवाया इसका भी अलग खेल है बता दे कि ट्विटर पर अभद्र भाषा के इस्तेमाल का आरोप लगाते हुए रिक्शा राजपूत ने अग्रवाल के खिलाफ शिकायत की थी जिसके बाद पुलिस ने मनीष जगन अग्रवाल को गिरफ्तार कर लिया था.

फिलहाल अखिलेश यादव ने आगे कहा कि उनकी भाषा क्या है इसलिए हमने हिंदी दिवस के दिन कहा था कि बीजेपी के लोगों को सभ्य भाषा का इस्तेमाल करना चाहिए उन्होंने आरोप लगाया है कि यह बीजेपी की रणनीति है आज किस को आगे करना है किस जाति के व्यक्ति से जवाब दिलवाना है यह उनका जाति के आधार पर सोच है यह सरकार पिछड़ों को बांटना चाहती है इनके पास जवाब नहीं है.