तेलंगाना की श्रीशैलम जलविद्युत संयंत्र आग हादसे में नौ लोगों के शव बरामद हुए, PM मोदी ने ट्वीट कर जताया दुख

366
श्रीशैलम जलविद्युत संयंत्र में लगी भीषण आग

तेलंगाना की श्रीशैलम जलविद्युत संयंत्र (Srisailam hydroelectric plant) में लगी आग के बाद नौ लोगों के शव बरामद हुए हैं. ये लोग हाइड्रोइलेक्ट्रिक प्‍लांट के अंदर फंस गए थे जिसने गुरुवार देर रात आग पकड़ ली थी. नगरकुरनूल कलेक्टर ने कहा, सहायक इंजीनियर का शव बरामद हो गया है.गौरतलब है कि श्रीशैलम जलविद्युत संयंत्र के एक हाइड्रो इलेक्ट्रिक प्लांट में आग लगी थी. आग लगने की खबर मिलते ही बचाव टीमें मौके पर पहुंचीं और 10 लोगों को सुरक्षित बचा लिया गया था. बताया जा रहा है कि आग रात करीब 10:30 बजे लगी.

इस हादसे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट करके दुख जताया है. उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर लिखा, ”श्रीशैलम जलविद्युत संयंत्र (Srisailam hydroelectric plant) में आग लगना दुर्भाग्यपूर्ण है. इस दुख की घड़ी में मेरी संवेदना शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं. मुझे उम्मीद है कि घायल लोग जल्द से जल्द ठीक हो जाएं.”

गुरुवार रात 10.30 बजे जब आग लगी तो 19 लोग शिफ्ट पर थे, इसमें से 10 लोग बचने में सफल रहे थे जबकि एक डिवीजन इंजीनियर, चार असिस्‍टेंट इंजीनियर, दो जूनियर प्‍लांट अटेंडेंट और दो अन्‍य लोग अंदर फंस गए थे. इन लोगों को बाहर निकालने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया लेकिन नौ लोगों की जान नहीं बचाई जा सकी. श्रीशैलम जलविद्युत संयंत्र तेलंगाना में आंध्र प्रदेश से सटी सीमा के पास है. हालात के मददेजनर NDRF को बुलाया गया.

कृष्णा नदी पर बना श्रीसैलम लेफ्ट बैंक पॉवर स्टेशन हैदराबाद से करीब 200 किमी दूर है. तेलंगाना स्टेट पॉवर जेनरेशन कॉरपोरेशन (जेनको) इसे संचालित करता है. संयंत्र में छह इकाइयां हैं जिनकी कुल क्षमता 900 मेगावॉट बिजली उत्पादन की है और पिछले कुछ दिन से बारिश होने से यहां बिजली उत्पादन जोरों से हो रहा था..तेलंगाना ट्रांस्‍को के सीएमडी डी. प्रभाकर राव ने बताया कि जैसी ही आग लगने की खबर मिली, यूनिट को ट्रिप करने की कोशिश की गई लेकिन ऐसा नहीं हो सका. ऐसे में हमने 400 केवी इनपुट को अलग कर दिया और सभी यूनिट ट्रिप कर दिए गए. शुरुआती रिपोर्ट के अनुसार, शार्टसर्किट को आग लगने का कारण माना जा रहा है. श्रीशैलम डैम के बाएं किनारे पर स्थित अंडरग्राउंड हाइड्रो इलेक्ट्रिक पावर स्‍टेशन में यह शार्ट सर्किट होने की आशंका है.