IPL 2020, SRH vs CSK : चेन्नई के सामने हैदराबाद की चुनौती, आर-पार की लड़ाई लड़ने उतरेगी CSK ,जंग में बने रहने के लिए SRH को हराना जरूरी

602

इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन के 29वें मुकाबले में आज सनराइजर्स हैदराबाद और चेन्नई सुपर किंग्स की टीम आमने-सामने होंगी। दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले जाने वाले इस मैच में चेन्नई की नजरें जीत हासिल करने पर होंगी ताकि वह टूर्नामेंट में अपनी उम्मीदों को जिंदा रख सके। चेन्नई इकलौती टीम है जिसनें हर सीजन IPL के प्लेऑफ में जगह बनाई है।

मौजूदा टूर्नामेंट में चेन्नई को अभी तक 7 मैचों में से 5 में हार का सामना करना पड़ा है और पाइंट टेबल में टीम 7वें पायदान पर है। वहीं, सनराइजर्स हैदराबाद 7 में से 3 जीत के साथ पाइंट टेबल में 5वें स्थान पर है।

हैदराबाद के खिलाफ मैच में चेन्नई के लिए जीत की राह पर लौटना आसान नहीं होगा क्योंकि टीम की बल्लेबाजी में कई खामियां मौजूद हैं। एक समय था जब चेन्नई को लक्ष्य का पीछा करने वाली बेहतरीन टीम माना जाता था लेकिन इस सीजन माही की टीम चेज करते हुए एक भी मैच नहीं जीत पाई है जिससे जाहिर होता है कि टीम की बल्लेबाजी किस कदर दवाब में हैं।

टूर्नामेंट में फॉफ डुप्लेसिस और शेन वॉटसन को छोड़ दिया जाए तो चेन्नई के अन्य बल्लेबाज लगातार अच्छा करने में नाकाम रहे हैं। ऐसे में कप्तान धोनी को प्लेइंग इलेवन में बल्लेबाजों का चयन बेहद सावधानी के साथ करना होगा।

मिडिल आर्डर टीम के लिए सबसे बड़ी चिंता का कारण बना हुआ है। यही वजह है कि केदार जाधव को पिछले मैच में बाहर बैठना पड़ा। लोअर आर्डर भी दवाब में नाकाम नजर आ रहा है जिसमें धोनी, ब्रावो और जडेजा जैसे बल्लेबाज हैं।

टीम की गेंदबाज बल्लेबाजों की तुलना में अच्छा कर रहे हैं। दीपक चाहर और जडेजा अपनी छाप छोड़ने में सफल रहे हैं। ब्रावो की वापसी से टीम संतुलित हुई लेकिन कर्रन, शार्दुल ठाकुर और कर्ण शर्मा को और अच्छा प्रदर्शन करने की जरूरत है। स्पिन में जडेजा और कर्ण शर्मा से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी।

इस मुकाबले के जरिए चेन्नई और हैदराबाद इस सीजन दूसरी बार आमने-सामने होंगी जहां धोनी की टीम सनराइजर्स से पिछले मैच में मिली 7 रन की हार का बदला चुकता करने की कोशिश करेगी।

दूसरी तरफ सनराइजर्स हैदराबाज के बल्लेबाज टूर्नामेंट में अच्छा कर रहे हैं। बल्लेबाजी में जॉनी बेयरस्टो और डेविड वार्नर फॉर्म में हैं और मनीष पांडे ने भी पिछले मैच में 54 रनों की पारी खेली। केन विलियम्सन भी टीम का अच्छा साथ निभा रहे है। हालांकि लोअर आर्डर में प्रियम गर्ग और अभिषेक शर्मा का लगातार प्रदर्शन न कर पाना टीम की चिंता बढ़ाने वाला है।

चेन्नई के उलट हैदराबाद की गेंदबाजी ने टीम की ज्यादा टेंशन बढ़ा रखी है। भुवनेश्वर कुमार और आलराउंडर मिशेल मार्श के टूर्नामेंट से बाहर होने के बाद हैदराबाद की गेंदबाजी बैकफुट पर आ गई है। संदीप शर्मा, खलील अहमद और युवा अभिषेक शर्मा कुछ खास कमाल नहीं दिखा पा रहे हैं। हालांकि लेग स्पिनर राशिद खान और यार्कर विशेषज्ञ टी नटराजन लगातार अपनी गेंदबाजी से छाप छोड़ने में सफल रहे हैं