SBI ने बताया, क्यों कट रहे है, आपके अकाउंट से पैसे

276
DCW issues notice to SBI

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया अपने ग्राहकों के खाते से पैसे काट रहा है. शुरुआत में जब ग्राहकों के अकाउंट से पैसे कटे तो ग्राहक परेशान हो गए. उन्हें लगा कि उनके साथ किसी तरह का Cyber फ्रॉड न हुआ हो. सोशल मीडिया पर इसे लेकर ग्राहकों ने अपनी व्यथा व्यक्त की. बाद में SBI ने इस बात की पुष्टि की लोगों के साथ किसी तरह का साइबर फ्राड या ठगी नहीं हुई है, ये पैसे SBI ने ही काटे हैं.

बैंक अपने ग्राहकों को कई तरह की सुविधाएं देता हैं. मसलन ग्राहकों का अकाउंट मेंटेन करना, उन्‍हें डेबिट/ATM कार्ड की सुविधा देना, Internet बैंकिंग की सुविधा देना. इस तरह की सुविधाओं पर होने वोले खर्च को बैंक ग्राहकों से ही वसूलते हैं. इस बार 147.50 रुपये का यह चार्ज एक्टिव ATM कार्ड के लिए वसूला गया है.

SBI ने ट्विटर पर ग्राहक को उत्तर देते हुए कहा है कि यह पैसे मेंटेनेंस फीस के रुप में काटे गए हैं. बैंक के अनुसार इस राशि में 125+जीएसटी मिलाकर काटे गए हैं. एसबीआई ने ग्राहकों को दिए गए अपने संदेश में लिखा है कि कभी भी सक्रिय प्रत्येक एटीएम सह डेबिट कार्ड के रखरखाव के शुल्क के रुप में 147.50 रुपये प्रति वर्ष लिया जाता है. SBI के खाताधारक यदि महीने में पांच बार स्टेट बैंक के एटीएम से पैसे निकालते हैं या लेन-देन करते हैं तो कोई शुल्क नहीं लगता. यदि आप स्टेट बैंक के ग्राहक हैं और स्टेट बैंक के डेबिट कार्ड का उपयोग दूसरे बैंक के एटीएम से करते हैं, तो मुफ्त लेनदेन की सुविधा बस तीन बार मिलेगी.