सौरव गांगुली ने आलोचकों को दिया करारा जवाब,भारत के लिए लगभग 500 मैच खेला हूं, किसी भी खिलाड़ी से बात कर सकता हूं

285

दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर ने पंजाब के खिलाफ मैच के दौरान कहा था कि वह खुद को लकी मानते हैं कि उन्हें गांगुली और पोंटिंग जैसे मेंटर्स मिले। अय्यर के इस बयान के बाद विवाद खड़ा हो गया था कि बीसीसीआई अध्यक्ष के पद पर रहते हुए गांगुली दिल्ली कैपिटल्स के मेंटर कैसे रह सकते हैं।

इस विवाद पर अब सौरव गांगुली ने अपनी चुप्पी तोड़ी है और कहा है कि उन्होंने भारत के लिए 500 मैच खेले हैं और अगर कोई युवा खिलाड़ी उनकी मदद चाहता है तो वह उसकी मदद करेंगे।

गांगुली ने एक प्रमोशनल इवेंट के दौरान कहा “मैंने पिछले साल उनकी (अय्यर) मदद की थी। मैं बोर्ड अध्यक्ष हो सकता हूं, लेकिन यह मत भूलो कि मैंने भारत के लिए लगभग 500 मैच (424 मैच) खेले हैं, इसलिए मैं एक युवा खिलाड़ी से बात कर सकता हूं और उसकी मदद कर सकता हूं, चाहे वह श्रेयस अय्यर हों या विराट कोहली। अगर वे मदद चाहते हैं, तो मैं कर सकता हूं।”

हालांकि अय्यर ने बाद में अपने इस बयान पर सफाई देते हुए कहा था कि मेरे बयान का मतलब यह था कि दोनों ने किस तरह कप्तान के तौर पर मुझे निखारा है।

अय्यर ने ट्वीट करते हुए कहा था “एक युवा कप्तान के रूप में मैं रिकी और दादा का आभारी हूं। पिछले सीजन में एक क्रिकेटर और कप्तान के रूप में मेरी यात्रा के वे हिस्सा रहे थे। कल का मेरा बयान एक कप्तान के रूप में पर्सनल ग्रोथ में उनकी भूमिका के प्रति आभार जताने वाला था।”

गांगुली ने करियर में 113 टेस्ट और 311 वनडे इंटरनैशनल मैच खेले। उनके नाम टेस्ट में 7212 और वनडे में 11363 रन दर्ज हैं।