सीरम इंस्टीट्यूट ने कोविशील्ड टीके का निर्यात शुरू किया, अब तक 1.25 अरब खुराकों का उत्पादन कर चुकी है कंपनी

196
coishield export

टीका बनाने वाली कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) ने कम और मध्यम आये वाले देशों को कोविशील्ड टीके का निर्यात शुरू कर दिया है. कंपनी ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि पुणे संयंत्र से कोविशील्ड की पहली खेप भेजी गई. कंपनी ने अब तक कोविशील्ड की 1.25 अरब खुराकों का उत्पादन किया है. सीरम इंस्टीट्यूट ने कहा, “कोविड-19 रोधी वैक्सीन कोविशील्ड की पहले खेप को पुणे में एसएसआई संयंत्र से कोवैक्स व्यवस्था के तहत कम और मध्यम आय वाले देशों में वितरण के लिए भेजा गया.” उसने कहा कि कोवैक्स के तहत अगले वर्ष की पहली तिमाही में कोविशील्ड टीकों की आपूर्ति पर्याप्त रूप से बढ़ने की उम्मीद है.

निर्यात फिर से शुरू करने को लेकर कंपनी ने कहा कि यह निर्णय इस वर्ष के अंत तक कोवशील्ड की 100 करोड़ खुराकों का उत्पादन करने के लक्ष्य को पूरा करने पर निर्भर था. कंपनी ने पुणे के अपने संयंत्र पर उत्पादन क्षमता के तेजी से विस्तार के माध्यम से इस लक्ष्य को समय से पहले ही हासिल कर लिया है. कोवैक्स व्यवस्था के तहत एसआईआई द्वारा उत्पादित कोविड-19 रोधी टीकों को कम आय वाले 92 देशों को भेजा जा रहा है. कोवैक्स, ग्लोबल वैक्सीन एलायंस (जीएवीआई), विश्व स्वास्थ्य संगठन और कोएलिशन फॉर एपिडेमिक प्रिपेयर्डनेस इनोवेशन (सीईपीआई)की अगुवाई में एक बहुपक्षीय पहल है जिसका उद्देश्य सभी देशों को कोविड रोधी टीके उपलब्ध कराना है.

एसआईआई के मुख्य कार्यपालक अधिकारी अदार पुनेवाला ने एक बयान में कहा, “निर्यात फिर से शुरू होने को लेकर यह एक बहुत बड़ा क्षण है. दुनिया काफी हद तक कम लागत और उच्च गुणवत्ता वाली दवाइयों और टीकों पर निर्भर है, जो पारंपरिक रूप से भारत निर्यात करता है.”