सऊदी अरब ने हूती विद्रोहियों ठिकानों पर की एयर स्ट्राइक, कमांडर की मौत

229
Saudi air strike on houthi rebels
Saudi air strike on houthi rebels

सऊदी अरब के नेतृत्व वाली गठबंधन सेना द्वारा यमन (Yemen) में किए गए हवाई हमले में हूती विद्रोहियों के कमांडर अब्दुल्ला कासिल अल जुनेद समेत कई वरिष्ठ हूती अधिकारी मारे गए हैं. अरब न्यूज चैनल अल-हदाथ ने इसकी जानकारी दी है. सऊदी अरब के लड़ाकू विमानों ने मंगलवार की आधी रात को यमन की राजधानी सना में हूती विद्रोहियों के ठिकानों पर एयरस्ट्राइक करते हुए बम बरसाए. ये हमला तब हुआ है, जब सोमवार को हूती विद्रोहियों के आबू धाबी में किए गए ड्रोन हमले में दो भारतीयों की मौत हो गई थी.

अल-हदाथ की रिपोर्ट को मुताबिक, हूती विद्रोहियों के ठिकानों को तबाह करने के लिए सऊदी अरब के लड़ाकू विमानों में F-15 और F-16 विमान शामिल थे. मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि सऊदी अरब ये हमला अगले 24 घंटे तक जारी रखने वाला है. ऐसे में अब हूती विद्रोहियों की शामत आने वाली है. यमन में पिछले छह सालों से गृहयुद्ध जारी है और हूती विद्रोहियों के खिलाफ गठबंधन सेनाएं लड़ रही हैं. इस युद्ध की वजह से यमन में गंभीर मानवीय संकट खड़ा हो गया है.

UAE में भारतीय दूतावास (Indian Embassy) ने कहा कि मिशन अधिक जानकारी के लिए संबंधित UAE अधिकारियों के साथ निकट संपर्क में है. इसने ट्वीट किया, ‘UAE के अधिकारियों ने सूचित किया कि ADNOC के भंडारण टैंकों के पास मुसफ्फाह में विस्फोट से तीन लोगों की मृत्यु हुई है, जिनमें दो भारतीय नागरिक शामिल हैं. आबू धाबी में भारतीय मिशन और अधिक जानकारी के लिए UAE के संबंधित अधिकारियों के साथ करीबी संपर्क में है.’ UAE ने हमले के लिए हूती विद्रोहियों को जिम्मेदार ठहराया. सऊदी अरब ने भी घटना की निंदा की थी और माना जा रहा है कि ये हमला उसी के जवाब में था.