रूस-यूक्रेन युद्ध का 24वां दिन: रूस ने पोलैंड के पास लवीव में पहली बार बरसाईं मिसाइलें

276
Russia-Ukraine war

रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध अब 24वें दिन में प्रवेश कर गया है। रूस की सेना ने जंग शुरू होने के बाद पहली बार पोलैंड से सटे पश्चिमी यूक्रेन के शहर लवीव में शुक्रवार को मिसाइलों से भीषण हमला किया है। रूस ने 6 मिसाइलों से लवीव एयरपोर्ट से सटे इलाकों को निशाना बनाया। लवीव के मेयर ने रूस के इन हमलों की जानकारी दी है। इस बीच यूक्रेन ने कहा है कि उसने कीव पर हमला करने के रूस के दो मुख्‍य रास्‍तों को ब्‍लॉक कर दिया है।

मेयर ने बताया कि लवीव में हुए रूसी हमलों में अभी किसी के मरने की पुष्टि नहीं हुई है। लवीव शहर नाटो सदस्‍य देश पोलैंड की सीमा से मात्र 80 किमी दूर है। मेयर ने बताया कि रूस ने एक एयरक्राफ्ट रिपेयर प्‍लांट को निशाना बनाया। यूक्रेन की सेना के पश्चिमी कमान ने बताया कि रूस की ओर से काला सागर के रास्‍ते संभवत: 6 X-555 मिसाइलों को दागा गया। इनमें से दो मिसाइलों को यूक्रेन के एयर डिफेंस के जरिए हवा में ही तबाह करने का दावा किया गया है।

इस बीच अपने भाषणा में यूक्रेन के राष्‍ट्रपति वोलोदयमयर जेलेंस्‍की ने कहा कि देश की वायुसेना सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्‍त नहीं है। इस बीच यूक्रेन की सेना ने राजधानी कीव पर रूसी हमले के रास्‍तों को ब्‍लॉक करने का दावा किया है। इसके साथ ही रूस की सेना की दो तरफ से कीव की ओर हो रही बढ़त रूक गई है। यूक्रेन की सेना ने बताया कि रूसी सेना शहर के दक्षिणी किनारे से 70 किमी दूर है। इस वजह से वे रॉकेट के अलावा और हमले नहीं कर पा रहे हैं।

यूक्रेन की सेना ने कहा कि रूसी सेना उनके इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर को निशाना बना रही है लेकिन हमलों के मुख्‍य रास्‍तों को ब्‍लॉक कर दिया गया है। यही नहीं अब कीव की सुरक्षा के लिए दो लेयर के साथ तीसरी लेयर को भी बनाया जा रहा है। हालांकि उन्‍होंने माना कि क्रूज मिसाइलों से अभी भी शहर को खतरा बना हुआ है। रूस काला सागर और बेलारूस के रास्‍ते यूक्रेन पर मिसाइलों की बारिश कर रहा है, ये दोनों ही अलग-अलग दिशा में हैं। इस बीच अमेरिका ने कहा है कि रूस ने अब तक यूक्रेन पर 1080 मिसाइलें दागी हैं।

यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने भविष्यवाणी की है कि यूक्रेन के खिलाफ युद्ध रूस को दशकों पीछे ले जाएगा – ‘90 के दशक की त्रासदियों’ जैसे हालात हो जाएंगे। जेलेंस्की ने कहा, ‘मुझे विश्वास है कि हम पर हमला करके वे पिछले 25 वर्षों में रूसी समाज ने जो कुछ हासिल किया है, उसे नष्ट कर देंगे और वे वहीं लौट आएंगे, जहां उन्होंने एक बार उठना शुरू किया था – हालात ‘90 के दशक की त्रासदियों’ जैसे हो जाएंगे।’

उन्होंने एक वीडियो संबोधन में कहा, ‘केवल स्वतंत्रता के बिना, लाखों लोगों की अपने राज्य के विकास के लिए काम करने की रचनात्मक इच्छा के बिना। यह रूस के लिए यूके्रन के खिलाफ युद्ध की कीमत होगी। यह उनके लिए एक गिरावट होगी, एक दर्दनाक गिरावट होगी। और वे महसूस करेंगे – टेलीविजन प्रचारकों की लोगों की अफीम के बावजूद।’ इससे पहले, यूक्रेन के सशस्त्र बलों ने कहा था कि रूसी सैनिकों ने मिसाइलों के अपने पूरे भंडार और कुछ प्रकार के गोला-बारूद का इस्तेमाल किया है। यूक्रेन के सशस्त्र बलों के अनुसार, रूसी हथियार उद्योग में काम करने वाली कई कंपनियों को चौबीसों घंटे मोड में बदल दिया गया है।