Rolex Rings का आईपीओ आज से सब्सक्रिप्शन के लिए ओपन, निवेशकों को मिलेगा शानदार कमाई का मौका

348

बाजार में पैसा लगाने वाले निवेशकों के लिए अच्छी खबर है. 28 जुलाई यानी आज से आपको एक और कमाई करने का मौका मिलने वाला है. ऑटो कलपुर्जे बनाने वाली कंपनी रोलेक्स रिंग्स का आईपीओ आज सब्सक्रिप्शन के लिए ओपन हो रहा है. यह 28 जुलाई से 30 जुलाई तक सब्सक्रिप्शन के लिए ओपन रहेगा.

इस आईपीओ के जरिए कंपनी करीब 24.36 लाख इक्विटी शेयर्स जारी करेगी. इस आईपीओ के लिए निवेशकों को 14080 रुपये का मिनिमम निवेश करना होगा. एक लॉट में निवेशकों को 16 शेयर्स मिलेंगे.

कंपनी के एंकर निवेशकों की लिस्ट में इनवेस्को म्यूचुअल फंड, मैथ्यूज एशिया फंड्स और ग्लोबल इनवेस्टमेंट फंड्स हैं. इसके अलावा अगर डोमेस्टिक इनवेस्टर्स की लिस्ट देखें तो इसमें एचडीएफसी ट्रस्टी, आईसीआईसीआई प्रू, एक्सिस म्यूचुअल फंड, आदित्य बिड़ला सनलाइफ, एसबीआई म्यूचुअल फंड, कोटक म्यूचुअल फंडस, एल एंड टी म्यूचुअल फंड और निप्पॉन लाइफ इंडिया शामिल हैं.

रोलेक्स रिंग्स लिमिटेड IPO साल 2021 में आने वाला 30वां आईपीओ होगा. इस आईपीओ का प्राइस बैंड 880-900 रुपये तय किया गया है. कंपनी इस आईपीओ के जरिए 731 करोड़ रुपये जुटाएगी. इस इश्यू में 56 करोड़ का फ्रेश इश्यू किया जाएगा. वहीं, ऑफर फॉर सेल के तहत रिवेन्देल PE LLC 75 लाख शेयर की बिक्री की जाएगी. यह आईपीओ सब्सिक्रिप्शन के लिए 28 से 30 जुलाई तक ओपन रहेगा यानी आप इन तीन दिनों में निवेश कर सकते हैं.

मार्केट एक्सपर्ट के मुताबिक, इस आईपीओ में निवेशकों को निवेश करना चाहिए, लेकिन इसके साथ ही इसमें क्लाइंट कॉन्सनट्रेशन, कॉरपोरेट डेट रीस्ट्रक्चिरिंग और ज्यादा वैल्यूएशन का खतरा है तो इन बातों का ध्यान रखकर ही पैसा लगाना चाहिए. Choice Broking के मुताबिक, “रोलेक्स रिंग्स की एंटरप्राइज वैल्यू 4.3x है जो प्रतिद्वंदी कंपनियों के मुकाबले ज्यादा है. इस सेक्टर की दूसरी कंपनियों की एंटरप्राइज वैल्यू 3.9x है.”

कंपनी इस आईपीओ से मिले पैसे का इस्तेमाल कंपनी की लॉन्ग-टर्म वर्किंग कैपिटल जरूरतों को पूरा करने और कंपनी के जनरल कॉर्पोरेट पर्पज के लिए होगा.

आपको बता दें कंपनी का भारत और दूसरे देशों में बियरिंग और दूसरे ऑटोमोटिव कलपुर्जों की सप्लाई करती है. कंपनी टू-व्हीलर, पैसेंजर व्हीकल, कर्मशियल व्हीकल और ऑफ हाईवे व्हीकल, इलेक्ट्रिक व्हीकल, इंडस्ट्रियल मशीनरी, विंड टर्बाइन, रेवले जैसे सेक्टरों के लिए कलपुर्जे बनाती है. बता दें राजकोट में कंपनी की 3 उत्पादन ईकाइयां है, जिसमें 22 फोर्जिंग लाइंस है.