लगातार तीन दिन की गिरावट के बाद आज बढ़ी सोने-चांदी की वायदा कीमत, जाने आज कितने हुए दाम

219

आज सोने की कीमतों में तीन दिन की गिरावट के बाद बढ़त दर्ज की गई, वहीं वैश्विक बाजारों में दरें सपाट थीं। एमसीएक्स पर, सोना वायदा 0.3 फीसदी बढ़कर 47,389 रुपये प्रति 10 ग्राम रहा जबकि चांदी 0.7 फीसदी बढ़कर 70,621 रुपये प्रति किलोग्राम हो गई। पिछले तीन सत्रों में, सोने की वायदा कीमत में 800 रुपये की गिरावट आई थी। 

कमजोर अमेरिकी डॉलर ने कीमती धातु का समर्थन किया। हाजिर सोना 0.1 फीसदी बढ़कर 1,820.71 डॉलर प्रति औंस हो गया। डॉलर सूचकांक, जो छह मुद्राओं के खिलाफ ग्रीनबैक के मूल्य का प्रतिनिधित्व करता है, 0.26 फीसदी फिसलकर 90.237 हो गया। इस बीच, प्लैटिनम की कीमत करीब साढ़े छह साल की ऊंचाई पर पहुंची। प्लैटिनम एक फीसदी बढ़कर 1,315.32 डॉलर का हो गया। 

दुनिया की सबसे बड़ी गोल्ड समर्थित एक्सचेंज ट्रेडेड फंड या गोल्ड ईटीएफ, एसपीडीआर गोल्ड ट्रस्ट की होल्डिंग्स पिछले सप्ताह के 1156 टन के मुकाबले कम होकर 1142 टन हो गई। स्वर्ण ईटीएफ सोने की कीमतों पर आधारित होते हैं और उसके दाम में आने वाली घट-बढ़ पर ही इसका दाम भी घटता बढ़ता है। मालूम हो कि ईटीएफ का प्रवाह सोने में कमजोर निवेशक रुचि को दर्शाता है। एक मजबूत डॉलर अन्य मुद्राओं के धारकों के लिए सोने को अधिक महंगा बनाता है।

सरकार ने एक फरवरी को सोने और चांदी पर आयात शुल्क में कटौती की घोषणा की। इस कदम से घरेलू बाजार में इन मूल्यवान धातुओं की कीमतों को नीचे लाने में मदद मिलेगी तथा रत्न एवं आभूषण निर्यात को बढ़ावा मिलेगा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2021-22 का बजट पेश करते हुए कहा कि, ‘वर्तमान में सोना और चांदी पर 12.5 फीसदी सीमा शुल्क लगाया जाता है। चूंकि, जुलाई 2019 में शुल्क 10 फीसदी से बढ़ा दिया गया था, इसलिए कीमती धातुओं के मूल्य में तेजी से वृद्धि हुई, इसे पिछले स्तर के करीब लाने के लिए हम सोना और चांदी पर सीमा शुल्क को युक्तिसंगत बना रहे हैं।’