राहुल गांधी बोलें- पीएम मोदी की नौटंकी से आई कोरोना की दूसरी लहर, वैक्सीन पर रणनीति नहीं बदली तो तीसरी, चौथी और पांचवीं लहर भी तय

257
Rahul Gandhi

आज कांग्रेस सांसद राहुल गांधी कोरोना के मुद्दे को लेकर मीडिया को संबोधित कर रहे हैं। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए राहुल गांधी मीडिया को संबोधित करते हुए केंद्र सरकार पर हमला बोला और कहा कि केंद्र सरकार को अभी तक कोरोना समझ नहीं आया है। राहुल गांधी ने कहा कि लॉकडाउन कोरोना का स्थायी समाधान नहीं है।

वैक्सीनेशन ही है स्थायी समाधान- गांधी
राहुल गांधी ने कहा कि अगर कोरोना को रोकने का कोई स्थायी समाधान है तो वो है सिर्फ वैक्सीनेशन। राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री पर आरोप लगाते हुए कहा कि आपके काम करने के तरीके से लाखों लोगों की मौत हुई है, इसलिए अपने काम करने के तरीके को बदलें। कोरोना सिर्फ एक बीमारी नहीं है, कोरोना एक बदलती हुई बीमारी है। आप इसको जितना समय और जगह देंगे ये उतना खतरनाक बनता जाएगा।

मात्र तीन फीसदी लोगों को ही लगा टीका
राहुल गांधी ने कहा कि लॉकडाउन, मास्क लगाना, सैनिटाइज करना स्थायी समाधान नहीं है। उन्होंने कहा कि अभी तक देश में सिर्फ तीन फीसदी लोगों को ही वैक्सीन लगी है। उन्होंने प्रधानमंत्री पर हमला बोलते हुए कहा कि उन्होंने कोरोना के मोर्चे पर अपनी जिम्मेदारी नहीं निभाई।

विपक्ष सरकार का दुश्मन नहीं- राहुल
राहुल गांधी ने अपने भाषण में कहा कि सिर्फ और सिर्फ वैक्सीनेशन के जरिए ही कोरोना से लड़ा जा सकता है। राहुल गांधी ने कहा कि हम फरवरी से केंद्र सरकार को आगाह कर रहे हैं लेकिन केंद्र ने हमारी एक नहीं सुनी। राहुल गांधी ने कहा कि विपक्ष उनका दुश्मन नहीं है और कोरोना कोई राजनैतिक मुद्दा नहीं है। 

तीसरी, चौथी और पांचवीं लहर भी आएगी- राहुल
इसके अलावा राहुल गांधी ने यह भी कहा कि अगर इस रेट पर वैक्सीनेशन चलता गया तो तीसरी, चौथी और पांचवी लहर भी आएगी। हमारी मृत्यु दर झूठ है और सरकार इस झूठ को फैला रही है। सरकार को समझना चाहिए कि विपक्ष उनका दुश्मन नहीं है, विपक्ष उनको रास्ता दिखा रहा है।