French Open 2020: लाल बजरी के बादशाह राफेल नडाल 13वीं बार सेमीफाइनल में, डिएगो से होगा सामना

410

लाल बजरी के बादशाह राफेल नडाल ने सीधे सेटों में जीत दर्ज करके 13वीं बार फ्रेंच ओपन टेनिस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया। फाइनल में जगह बनाने के लिए उनका सामना अर्जेंटीना के डिएगो  श्वार्ट्जमैन से होगा। रोलां गैरां पर 12 बार के चैंपियन नडाल को इटली के 19 वर्षीय जानिक सिनर से शुरू में चुनौती मिली लेकिन इसके बाद उन्हें 7-6, 6-4, 6-1 से जीत दर्ज करने में कोई परेशानी नहीं हुई। 

इससे पहले 12वें वरीय श्वार्ट्जमैन ने यूएस ओपन चैंपियन और पेरिस में दो बार के उपविजेता डोमिनिक थीम को पांच सेट तक चले कड़े मुकाबले में 7-6, 5-7, 6-7, 7-6, 6-2 से हराया। श्वार्ट्जमैन ने नडाल के खिलाफ आखिरी मुकाबला जीता था। उन्होंने पिछले महीने रोम में क्लेकोर्ट टूर्नामेंट में इस दिग्गज खिलाड़ी को हराया था। फ्रेंच ओपन में इस बार देर रात तक भी मुकाबले हो रहे हैं क्योंकि पहली बार इस क्लेकोर्ट टूर्नामेंट में दूधिया रोशनी का उपयोग किया जा रहा है।
राफेल ने मैच के समय पर उठाए सवाल : 
नडाल ने मैच के बाद कहा, ‘निश्चित तौर पर तड़के एक बजकर 30 मिनट पर मैच का समापन आदर्श स्थिति नहीं है। यहां बहुत सर्दी है। ईमानदारी से कहूं तो टेनिस खेलने के लिए मौसम बहुत ठंडा है। इस तरह की परिस्थितियों में खेलना शरीर के लिए नुकसानदेह हो सकता है।’ यह मैच स्थानीय समयानुसार रात दस बजकर 30 मिनट पर शुरू हुआ था।

क्वितोवा की टक्कर केनिन से
चेक गणराज्य की पेत्रा क्वितोवा ने आठ साल बाद रोलां गैरां के अंतिम चार में प्रवेश कर लिया। अब उनका सामना अमेरिका की सोफिया केनिन से होगा। दो बार की विंबलडन चैंपियन क्वितोवा क्वार्टर फाइनल में लॉरा सिगमंड को आसानी से 6-3, 6-3 से मात देकर आठ साल बाद पेरिस में सेमीफाइनल में पहुंचीं। दुनिया की 11वें नंबर की खिलाड़ी ने अभी तक टूर्नामेंट में एक भी सेट नहीं गंवाया है। क्वितोवा इससे पहले 2012 में यहां तक पहुंची थी पर आगे नहीं बढ़ पाई थी। ऑस्ट्रेलियन ओपन चैंपियन केनिन ने हमवतन डेनिएल रोस कोलिंस को 6-4, 4-6, 6-0 से हराकर पहली बार फ्रेंच ओपन के अंतिम चार में जगह बनाई। इगा स्वितेक ने मार्टिना ट्रेविसन को आसानी से 6-3, 6-1 से मात दी। अब उनका सामना क्वालिफायर नादिया पोडोरोस्का से होगा।