IPL 2021 : आज पंजाब के सामने राजस्थान की चुनौती, क्रिस मॉरिस पर होगी सबकी नजर, IPL इतिहास के बने हैं सबसे महंगे खिलाड़ी

330

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 14वें सीजन में सोमवार को वानखेड़े स्टेडियम में राजस्थान रॉयल्स का सामना पंजाब किंग्स से होगा। इस मैच में लीग के अब तक के सबसे महंगे खिलाड़ी क्रिस मॉरिस अपनी टीम के लिए बड़ी योगदान देने की चुनौती का सामना करेंगे।

चोट के कारण आईपीएल के सीजन के पहले भाग से जोफ्रा आर्चर के बाहर होने के बाद, मॉरिस को अपनी टीम के फ्रंटलाइन गेंदबाज की जिम्मेदारी निभानी होगी क्योंकि राजस्थान पर पंजाब किंग्स की पावर-पैक बल्लेबाजी को रोकने की चुनौती होगी।

राजस्थान की सबसे बड़ी समस्या विदेशी तेज गेंदबाजों की कमी है। पिछले साल, आर्चर दूसरों से कोई समर्थन पाने में विफल रहे क्योंकि केवल स्पिनरों ने अच्छा प्रदर्शन किया। इस बार हालांकि मॉरिस को तेज गेंदबाज मुस्तफिजुर रहमान का समर्थन हासिल होना चाहिए।

हालांकि, क्या रहमान को प्लेइंग इलेवन में जगह मिल पाती है या नहीं, यह भी देखने वाली बात होगी। बल्लेबाज जोस बटलर, ऑल-राउंडर बेन स्टोक्स और मॉरिस के साथ निश्चित रूप से, राजस्थान को रहमान को अंतिम एकादश में शामिल करने के बारे में काफी सोचना होगा क्योंकि उसके पास लियाम लिविंगस्टोन और डेविड मिलर जैसे अन्य हार्ड हिटिंग बल्लेबाज भी हैं।।

राजस्थान रॉयल्स के क्रिकेट निदेशक कुमार संगकारा ने रविवार दोपहर मीडिया को बताया, “संजू (सैमसन) और मैं दोनों सहमत होंगे कि जोफ्रा आर्चर का नहीं होना हमारे लिए एक बड़ा झटका है। जोफ्रा हमारे संयोजन का एक बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा हैं और उसके पास में नहीं होना दुर्भाग्य से एक वास्तविकता है। हमें इसके चारों ओर काम करना होगा और उसी अनुसार योजना बनानी होगी।”

ऐसे में जबकि मुंबई की विकेट बल्लेबाजी के अनुकूल है, यह संभावना है कि राजस्थान रहमान के साथ जाएंगे जो अपने कटर के साथ विविधता लाने के लिए जाने जाते हैं और पिच से कुछ निकाल सकते हैं।

पंजाब किंग्स के बल्लेबाज केएल राहुल, जो पिछले साल ऑरेंज कैप विजेता थे, ने हाल के दिनों में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खराब दौर से गुजरे हैं लेकिन बावजूद इसके वह और मयंक अग्रवाल फिर से पंजाब फ्रेंचाइजी की बल्लेबाजी की रीढ़ बन सकते हैं।

यह देखना भी दिलचस्प होगा कि पंजाब अपने चार खिलाड़ियों का विदेशी कोटा कैसे संतुलित करता है। वे वेस्टइंडीज के बल्लेबाज निकोलस पूरन को मौका देंगे या फिर वे टी20 अंतरराष्ट्रीय में शीर्ष क्रम के बल्लेबाज डेविड मालन क मौका देंगे, यह देखना बाकी है।