प्रयागराज: मुख्तार अंसारी और मुन्ना बजरंगी गैंग के दो बदमाश मुठभेड़ में ढेर, डिप्टी जेलर हत्याकांड में थे शामिल, 50 हजार का था इनाम

    606

    प्रयागराज में उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स के साथ हुई मुठभेड़ में दो बदमाशों के मारे जाने की खबर है। जानकारी के अनुसार बुधवार देर रात अरैल इलाके में हुई मुठभेड़ में दोनों बदमाश मारे गए हैं।  मुठभेड़ के बाद पुलिस ने मौके से 30 और 9 एमएम की पिस्टल व कारतूस बरामद किए हैं। दोनों की पहचान गैंगस्टर मुन्ना बजरंगी और मुख्तार अंसारी के गैंग के सदस्य वकील पांडेय और अमजद के रूप में की गई है। 

    एसटीएफ ने बताया कि वकील पांडेय और अमजद दोनों भदोही के रहने वाले हैं। इन दोनों ने रांची के होटवार जेल के जेल अधिकारी की हत्या की सुपारी ली थी। साथ ही मुख्तार अंसारी और मुन्ना बजरंगी के कहने पर साल 2013 में वाराणसी के तत्कालीन डिप्टी जेलर अनिल कुमार त्यागी की दिनदहाड़े हत्या कर दी थी।

    यूपी पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार मारे गए दोनों बदमाश मुख्तार अंसारी और मुन्ना बजरंगी गैंग के शार्प शूटर थे। इसके साथ ही वकील पांडेय पर 50 हजार रुपये का इनाम भी घोषित था। हालांकि मुन्ना बजरंगी की मौत के बाद दोनों पिछले कुछ समय से दिलिप मिश्रा के लिए काम कर रहे थे।