पीएम मोदी बोले – टी स्टॉल पर पिता की मदद करने वाला आज UNGA को संबोधित कर रहा है, ये भारत के लोकतंत्र की ताकत

216

संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) की बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी ने करीब 22 मिनट का भाषण दिया. उन्होंने आतंकवाद, अफगानिस्तान, कोरोना महामारी और वैक्सीन सहित कई अहम मुद्दों पर दुनिया का ध्यान आकर्षित करवाया. अपने संबोधन के दौरान ही पीएम मोदी ने इस बात का भी जिक्र किया जब वे रेलवे स्टेशन की टी स्टॉल पर अपने पिता की मदद करते थे.

पीएम मोदी ने कहा कि ये भारत के लोकतंत्र की ताकत है कि एक छोटा बच्चा जो कभी एक रेलवे स्टेशन की टी स्टॉल पर अपने पिता की मदद करता था वो आज चौथी बार भारत के प्रधानमंत्री के तौर पर UNGA को संबोधित कर रहा है.

इसके साथ ही उन्होंने कहा, “मैं उस देश का प्रतिनिधित्व कर रहा हूं जिसे मदर ऑफ डेमोक्रेसी का गौरव हासिल है. लोकतंत्र की हमारी हजारों वर्षों की महान परंपरा रही है.

पीएम मोदी ने कहा कि वो 20 सालों से देश की सेवा कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि पहले मुख्यमंत्री और अब प्रधानमंत्री के तौर पर वे देश की सेवा में लगे हुए हैं.

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि आज दुनिया का हर छठा व्यक्ति भारतीय है. जब भारतीयों की प्रगति होती है तो विश्व के विकास को गति मिलती है.

पीएम मोदी ने कहा कि जब भारत बढ़ता है तो दुनिया बढ़ती है. जब भारत सुधार करता है, तो दुनिया बदल जाती है.

संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने अफगानिस्तान की मौजूदा स्थिति का जिक्र और कहा कि यह सुनिश्चित किया जाना बहुत जरूरी है कि अफगानिस्तान की धरती का इस्तेमाल आतंकवाद फैलाने और आतंकी हमलों के लिए ना हो.