पीएम मोदी बोले- डिजिटल यूनिवर्सिटी से देश के कॉलेजों में सीटों की समस्या समाप्त हो जाएगी

176
pm modi on Digital Universities in India

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कहना है कि आज की युवा पीढ़ी देश के भविष्य की कर्णधार है और यही भविष्य के राष्ट्र निर्माता भी हैं. उन्होंने कहा, आज की युवा पीढ़ी को सशक्त करने का मतलब है भारत के भविष्य को सशक्त करना. इसी सोच के साथ साल 2022 के बजट में शिक्षा के भेत्र में 5 बातों पर जोर दिया गया है. पीएम मोदी इस साल के केंद्रीय बजट का शिक्षा के क्षेत्र पर पड़ने वाले सकारात्मक प्रभाव पर चर्चा कर रहे थे।

पीएम मोदी ने शिक्षा के लिए बजट के प्रावधानों पर बात करते हुए कहा, नेशनल डिजिटल यूनिवर्सिटी भारत की शिक्षा व्यवस्था में अपनी तरह का अनोखा और अभूतपूर्व कदम है. उन्होंने कहा, डिजिटल यूनिवर्सिटी में वो ताकत देख सकता हूं कि यूनिवर्सिटी हमारे देश में सीटों की समस्या को पूरी तरह से समाप्त कर सकती है.

पीएम मोदी ने कहा, ई-विद्या, वन क्लास वन चैनल, डिजिटल लैब्स और डिटिजल यूनिवर्सिटी, ऐसा एजुकेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर युवाओं को बहुत मदद करने वाला है. पीएम मोदी ने कहा, भारत के सामाजिक-आर्थिक सेटअप में गांव हों, गरीब हों, दलित, पिछड़े, आदिवासी सभी को शिक्षा के बेहतर समाधान देने का यह एक प्रयास है.

पीएम मोदी ने कहा, इस बार के बजट में जिन पांच बातों पर जोर दिया गया है उनमें से पहला है क्वालिटी एजुकेशन का युटिलाइजेशन यानी अच्छी शिक्षा का बेहतर इस्तेमाल. दूसरा स्किल डेवलपमेंट है.

पीएम मोदी ने कहा, तीसरा अर्बन और डिजाइन है, जिससे भारत का जो पुरातन अनुभव और ज्ञान है, उसे हमारी आज की शिक्षा में समाहित किया जाए. चौथा अहम पक्ष है अंतरराष्ट्रीयकरण, जिससे भारत में वर्ल्ड क्लास विदेशी यूनिवर्सिटियां आएं.

पांचवे महत्वपूर्ण पक्ष के बारे में बताते हुए पीएम मोदी ने कहा, वह है AVGC- यानि एनिमेशन, विजुअल इफेक्ट्स, गेमिंग और कॉमिक्स इन सभी में रोजगार की अपार संभावनाएं हैं और एक बहुत बड़ा ग्लोबल मार्केट है.