इमरान खान ने फिर अलापा राग, कहा- कश्मीर पर अपने फैसले से हटने तक पाकिस्तान, भारत से संबंध बहाल नहीं करेगा

221
pak pm imran khan

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक बार जम्मू-कश्मीर का राग अलापा है। बुधवार को पड़ोसी मुल्क के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि जब तक भारत, जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा हटाने के अपने फैसले को वापस नहीं लेता तब तक पाकिस्तान पड़ोसी देश के साथ राजनयिक संबंध बहाल नहीं करेगा। भारत ने पांच अगस्त 2019 को संविधान के अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म कर इसे दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांट दिया था। खान ने नेशनल असेंबली को अपने संबोधन में कहा, ‘मैं साफ कर देना चाहता हूं कि जब तक भारत पांच अगस्त 2019 के गैरकानूनी कदमों को वापस नहीं लेता है तब तक उसके साथ राजनयिक संबंध बहाल नहीं होगा।’ खान ने कहा कि समूचा पाकिस्तान अपने कश्मीरी भाइयों और बहनों के साथ खड़ा है।

उनका यह बयान दोनों देशों के बीच अनौपचारिक बातचीत की खबरों के बीच आया है जिसके बाद फरवरी में नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम हुआ। हालांकि संबंधों को सामान्य करने के लिए और कोई गतिविधि की सूचना नहीं है। जम्मू कश्मीर से विशेष दर्जा हटाये जाने के बाद से पाकिस्तान ने भारत के साथ कारोबार स्थगित कर दिया था और दोनों देशों के बीच संबंध निचले स्तर पर पहुंच गये थे।

आपको बता दें कि हाल ही में चीन-पाकिस्तान के संबंध को लेकर इमरान खान ने कहा है कि चीन के साथ उनके मधुर संबंध हैं। उन्होंने कहा कि यह बहुत नाइंसाफी है कि यूनाइटेड स्टेट और दक्षिण की ताकतें चीन के साथ संबंधों को तोड़ने के लिए हमपर दवाब बना रही हैं। इमरान खान ने कहा कि हमारे रिश्ते सभी के साथ अच्छे होने चाहिए। अगर ऐसा नहीं होगा कि पाकिस्तान पर दवाब बनाया जाएगा कि वो चीन से अपने रिश्तों को खत्म कर ले…यह नहीं होने वाला है।

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने मंगलवार को कहा कि चीन के साथ पाकिस्तान के संबंधों के कारण वह अमेरिका एवं पश्चिमी देशों से ”दबाव महसूस कर रहा है और उन्होंने कभी भी दबाव में नहीं आने का संकल्प जताया। इमरान खान ने चीन के सरकारी प्रसारक चाइना ग्लोबल टेलीविजन नेटवर्क (सीजीटीएन) को दिए साक्षात्कार में कहा कि पाकिस्तान और चीन के बीच 70 वर्षों से ”बहुत विशेष संबंध हैं।