लोकसभा में ओबीसी से जुड़े बिल पर चर्चा, अधीर रंजन बोले – 50 फीसदी से ज्यादा आरक्षण की व्यवस्था हो

429

संसद में हंगामा करने और बहस न करने के आरोपों पर कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि यह बातें गलत हैं। चौधरी ने कहा कि हम भी संसद की गरिमा को समझते हैं। उन्होंने कहा कि संसद हमारे लिए हवा महल नहीं है कि हम यहां हवा लेने आएं। राज्यों को ओबीसी सूची तय करने का अधिकार देने वाले संशोधन विधेयक पर चर्चा के दौरान चौधरी ने कहा कि हम खुद दलित, जनजाति और ओबीसी के हितों के लिए तत्पर रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे में हमारे ऊपर यह आरोप लगाना कि हम चर्चा से बचते हैं, गलत है।

अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि आपका बहुमत है और आप किसी की परवाह नहीं करते हैं। आपका 56 इंच का सीना है और मनमानी कर सकते हैं, लेकिन आपको जनता की बोली के आगे झुकना होगा। कांग्रेस नेता ने कहा कि आपने ही ओबीसी आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया था और उसके तहत राज्यों से ओबीसी सूची तैयार करने का अधिकार ले लिया गया था। अब जब देश भर में लोग प्रदर्शन कर रहे हैं तो फिर यूपी, उत्तराखंड समेत कई राज्यों में चुनावों के मद्देनजर अब संशोधन विधेयक लाए हैं।

लोकसभा में कांग्रेस के नेता ने कहा कि हम इस संशोधन विधेयक का समर्थन करते हैं, लेकिन हमारी एक मांग भी है। हमारी मांग है कि आरक्षण की 50 फीसदी सीमा को भी खत्म करना चाहिए, जो सुप्रीम कोर्ट ने तय किया है। चौधरी ने कहा, ‘हमारी मांग है कि आरक्षण में 50 फीसदी सीलिंग को हटाना चाहिए। महाराष्ट्र समेत कई राज्यों की ऐसी मांग है और उस पर विचार किया जाना चाहिए।’ अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि तमिलनाडु समेत कई राज्यों में ऐसे प्रावधान हैं, लेकिन हमारी मांग है कि आप इस पर भी बिल लाएं और राज्यों को 50 फीसदी से ज्यादा आरक्षण देने का अधिकार दें।