पाकिस्तान में महामारी के बीच सियासी घमासान चरम पर, विपक्ष ने कहा- इस बार होगी आर पार की लड़ाई, इमरान सरकार चंद दिनों की मेहमान है

571

लाहौर की रैली को लेकर विपक्षी दलों ने आर-पार की लड़ाई लड़ने की तैयारी कर ली है। रैली की तैयारी में चल रही बैठकों से 150 पीडीएम कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी की गई। पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) की उपाध्यक्ष मरयम नवाज शरीफ ने कहा है कि अब इमरान सरकार चंद दिनों की मेहमान है। लाहौर रैली से अब आर-पार की लड़ाई शुरू होने वाली है।

विपक्षी गठबंधन पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (पीडीएम) के प्रवक्ता और पीएमएल-एन के पंजाब प्रांत के अध्यक्ष राना सनाउल्लाह ने कहा है कि लाहौर रैली को रोकने की इमरान खान ने कोशिश की तो किसी भी बड़ी घटना के लिए सरकार की जिम्मेदार होगी। उन्होंने बताया कि देश में दोबारा चुनाव हो सकें, इसके लिए सभी विपक्षी दलों के सांसद सामूहिक इस्तीफा देंगे। इन इस्तीफों को देने का मकसद देश में दोबारा निष्पक्ष चुनाव कराया जाना होगा।

इधर पीडीएम के संयोजक फजलुर रहमान ने कहा है कि कार्यकर्ता हर रविवार और शुक्रवार को मुख्यालयों पर प्रदर्शन करें। रैली को रोकने के लिए सरकार ने भी अपनी ताकत झोंक दी है। मंगलवार को फिर नई एफआइआर की और 150 विपक्षी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान अब अपने ट्विटर एकाउंट से सभी को अनफॉलो कर रहे हैं। यहां तक कि उन्होंने अपनी पहली पत्नी जेमिमा गोल्डस्मिथ को भी अनफॉलो कर दिया।

पाक प्रधानमंत्री को फॉलो करने वालों ने देखा कि कि उन्होंने अपनी पूर्व पत्नी और फिल्म प्रोड्यूसर जेमिमा को भी अनफॉलो कर दिया है। उसी के बाद वे ट्रोलर के निशाने पर आ गए। बस फिर क्या था, इमरान खान के बारे में ट्विटर पर तीखी प्रतिक्रिया होने लगी।