पाकिस्तानी कोर्ट ने आतंकी सरगना हाफिज सईद के प्रवक्ता को सुनाई 32 साल की सजा

550

मुंबई बम धमाकों के मास्टर माइंड और जमात-उद-दावा के प्रमुख हाफिज सईद के प्रवक्ता को पाकिस्तान के आतंक निरोधी कोर्ट ने 32 साल की सजा सुनाई है। सजा पाने वाले प्रवक्ता का नाम याहा मुजाहिद है। यह सजा टेरर फंडिंग मामले में हुई है। कोर्ट ने इस मामले में जमात-उद-दावा से जुड़े दो अन्य लोगों को भी सजा सुनाई है। इसमें हाफिज का भतीजा प्रोफेसर हाफिज अब्दुल रहमान मक्की भी शामिल है। इसे एक साल की सजा सुनाई गई है। कोर्ट में पेशी के दौरान सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए थे। मीडिया को अंदर जाने की अनुमति नहीं दी गई थी। कोर्ट के इस फैसले से हाफिज सईद को बड़ा झटका लगा है।

एटीसी जज एजाज अहमद बुत्तार ने दो एफआइआर में जेयूडी के प्रवक्ता याहया मुजाहिद को 32 साल कैद की सजा सुनाई। प्रोफेसर जफर इकबाल और प्रो हाफिज अब्दुल रहमान मक्की (सईद के बहनोई) को दो मामलों में 16 और एक साल की जेल की सजा सुनाई गई। उन्होंने कहा कि जेयूडी से जुड़े दो और लोगों अब्दुल सलाम बिन मुहम्मद और लुकमान शाह के खिलाफ आतंकी वित्तपोषण मामले में आरोप तय हुए हैं।