मुंबई में बरस रही आफत की बारिश, महाराष्ट्र के पांच जिलों के लिए IMD ने जारी किया ‘रेड अलर्ट’

    355
    Chennai Rainfall

    भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के क्षेत्रीय केंद्र ने मुंबई में भारी से बहुत भारी बारिश का पूर्वानुमान व्यक्त करते हुए ‘रेड अलर्ट’ जारी किया है. क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के प्रमुख डॉ. जयंत सरकार ने यहां कहा कि इससे पहले मौसम विभाग ने ‘ओरेंज अलर्ट’ जारी किया था, लेकिन अब ‘अनुकूल समसामयिक परिस्थितियों’ के कारण बदलाव के बाद बुधवार के लिए इसे ‘रेड अलर्ट’ कर दिया गया है. महानगर में रविवार और सोमवार को भी भारी बारिश हुई.

    सरकार ने कहा, ‘मुंबई में आज और अगले कुछ दिनों में भारी से बहुत भारी बारिश के लिए दो अनुकूल समसामयिक परिस्थितियां हैं. दक्षिण गुजरात तट से कर्नाटक तट तक कम दबाव के क्षेत्र से बारिश की तीव्रता तेज होने की उम्मीद है.’ उन्होंने कहा कि दूसरी बात मुंबई तथा पड़ोसी क्षेत्र में बनी ‘वायु प्रणालियां’ हैं. कोंकण तथा मध्य महाराष्ट्र में भी व्यापक पैमाने पर बारिश होगी.

    सरकार ने बताया कि मराठावाड़ा क्षेत्र में भी गुरुवार तक व्यापक बारिश होने की संभावना है और इसके बाद बारिश की तीव्रता कम हो सकती है. मौसम विज्ञान विभाग कार्यालय के एक अन्य अधिकारी ने बताया कि महाराष्ट्र तथा कर्नाटक के बीच तट पर कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है जिससे अकसर अरब सागर से जमीन पर नमी वाली पश्चिमी हवाएं चलती हैं.

    उन्होंने बताया कि इसके अलावा महाराष्ट्र में पूर्वी-पश्चिमी हवा प्रणालियां हैं और इससे मॉनसून के अनुकूल परिस्थितियां बन रही है. अधिकारी ने कहा, ‘कोंकण, गोवा और मध्य महाराष्ट्र विशेष तौर पर घाट वाले इलाकों में बहुत भारी बारिश के लिए दो समसामयिक प्रणालियां हैं.’

    उधर, राजस्थान में मॉनसून की बारिश का दौर जारी है. वहां बीते 24 घंटों में अनेक जगहों पर भारी से बहुत भारी बारिश दर्ज की गई. सबसे अधिक 143 मिलीमीटर बारिश सवाई माधोपुर में दर्ज की गई. मौसम केंद्र जयपुर के अनुसार, बीते चौबीस घंटों में राज्य के जयपुर, भरतपुर संभाग के जिलों में अधिकतर स्थानों पर हल्के से मध्यम बारिश, जबकि सवाई माधोपुर, धौलपुर व अलवर जिलों में कहीं-कहीं भारी व अति भारी बारिश हुई है.

    इसके अनुसार, 21-22 जुलाई को केवल छुटपुट स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश होने का अनुमान है. शेष भागों में मौसम लगभग शुष्क रहने का अनुमान है. अगले दो दिनों में गंगानगर, हनुमानगढ़ जिलों में मेघगर्जन के साथ कहीं-कहीं हल्के से मध्यम बारिश होने की संभावना है. वहीं राज्य के कोटा, उदयपुर, जोधपुर संभाग के कुछ स्थानों पर 22-23 जुलाई को बारिश की गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी.

    वहीं, दिल्ली-NCR के कई इलाकों में मंगलवार को भारी से मध्यम बारिश हुई है. बुधवार को भी बारिश का अनुमान है. यह सिलसिला 23 जुलाई तक जारी रहने की सम्भावना है.

    उधर, उत्तर प्रदेश में मॉनसून पूरी तरह सक्रिय हो गया है और पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य के ज्यादातर हिस्सों में जोरदार बारिश हुई. आंचलिक मौसम केंद्र की रिपोर्ट के मुताबिक दक्षिण-पश्चिमी मॉनसून राज्य में पूरी तरह सक्रिय हो गया है. पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य के पूर्वी हिस्सों में अनेक स्थानों पर जबकि पश्चिमी भागों के ज्यादातर इलाकों में वर्षा हुई.