मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाले रिलायंस समूह को एक और बड़ा निवेश मिल सकता है।

313

मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाले रिलायंस समूह को एक और बड़ा निवेश मिल सकता है. रिलायंस रिटेल में अमेरिकी प्राइवेट इक्विटी कंपनी सिल्वर लेक पार्टनर्स 1 अरब डॉलर (करीब 7500 करोड़ रुपये) के निवेश के लिए बातचीत में लगी है.

लंदन के अखबार फाइनेंशियल टाइम्स के अनुसार इस निवेश के लिए दोनों समूह बातचीत में लगे हैं और इसमें रिलायंस रिटेल का वैल्यूएशन करीब 57 अरब डॉलर (करीब 4.18 लाख करोड़ रुपये) का हो सकता है. कंपनी अपनी 10 फीसदी हिस्सेदारी और बेचना चाहती है.

लॉकडाउन के दौरान करीब 3 महीने के भीतर रिलायंस ने अपनी सहयोगी कंपनी जियो प्लेटफॉर्म्स के लिए दुनिया के 13 निवेशकों से करीब 1.52 लाख करोड़ रुपये का निवेश हासिल किया है. दुनिया के कई दिग्गज फंड और कंपनियां रिलायंस में निवेश कर मुनाफा कमाना चाहती हैं.

कोरोना संकट और लॉकडाउन से इकोनॉमी-कॉरपोरेट के परेशान होने के बावजूद रिलायंस इंडस्ट्रीज की तकदीर में लगातार नकदी आ रही है. इसके पहले खबर आई थी कि सऊदी अरब का सॉवरेन यानी सरकारी पब्लिक इनवेस्टमेंट फंड (PIF) रिलायंस इंडस्ट्रीज के जियो प्लेटफॉर्म्स में फिर 1 अरब डॉलर (करीब 7500 करोड़ रुपये) का निवेश कर सकता है. PIF पहले भी जियो प्लेटफॉर्म्स में करीब 1 अरब डॉलर का निवेश कर चुका है.