एमपी के भाजपा विधायक रामेश्वर ने जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर सीएम शिवराज सिंह चौहान को लिखा पत्र

571

यूपी की योगी आदित्‍यनाथ सरकार के जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर देशभर में घमासान मचा हुआ है. इस मुद्दे को लेकर बिहार की सियासत भी तेज हो चली है, तो अब मध्‍य प्रदेश में भी इसका असर देखने को मिल रहा है. भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने राज्य में जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाएं जाने को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखा है. उन्होंने पत्र में लिखा कि 10 सालों में लगभग 1.5 करोड़ से अधिक जनसंख्या की बढ़ोत्तरी हुई है जो कि पश्चिमी देशों से कहीं अधिक है.

बहरहाल, भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने सीएम शिवराज को लिखा, ‘ जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाकर जनसंख्या पर नियंत्रण करना जरूरी हो चला है. बढ़ती हुई जनसंख्या मध्‍य प्रदेश के विकास, सुशासन और सुरक्षा के लिए सबसे बड़ी चुनौती है. 2011 की जनगणना के अनुसार, मध्‍य प्रदेश की जनसंख्‍या 7 करोड़ 25 लाख थी. जबकि 2021 में यह 8 करोड़ 75 लाख हो चुकी है. साफ है कि पिछले 10 सालों में लगभग 1.5 करोड़ से अधिक जनसंख्या की बढ़ोत्तरी हुई है जो कि पश्चिमी देशों से कहीं अधिक है.

इसके साथ भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने अपने पत्र में जर्मनी, इटली और स्‍पेन की जनसंख्‍या का उदाहरण भी दिया है. जबकि विधायक ने अपने पत्र में सीएम शिवराज को मध्‍य प्रदेश को बीमारु राज्‍य से देश के अग्रणी राज्‍यों में लाने के लिए शुक्रिया भी अदा किया है.

बता दें कि उत्तर प्रदेश की सरकार नई जनसंख्या नीति लाने की तैयारी में है. यही नहीं, नए जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर ड्राफ्ट तैयार कर लिया गया है. प्रस्तावित कानून के तहत दो से अधिक बच्चों के पिता को किसी भी सरकारी सब्सिडी या किसी कल्याणकारी योजना का लाभ नहीं मिलेगा. इसके अलावा ऐसे व्यक्ति किसी सरकारी नौकरी के लिए भी आवेदन नहीं कर सकता है. साथ ही नए मसौदे में ये भी कहा गया है कि ऐसे लोगों को स्थानीय निकाय चुनाव में भी लड़ने की मनाही होगी.