लखीमपुर खीरी मे में दिल दहला देने वाली घटना 13 साल की बच्ची के साथ गैंगरेप, फिर आंखें फोड़ीं, जुबान काटी

300
crime against women in lucknow city

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में एक दिल दहला देने वाली और इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है. जहां एक 13 साल की दलित बच्ची के साथ ना केवल गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया गया, बल्कि उसकी आंखें फोड़ दी गई. उसकी जीभ काट डाली गई और उसके गले में फंदे डालकर उसे खेतों में घसीटा गया. ईसानगर थाने इलाके में रहने वाली यह नाबालिग घर से बाहर तो निकली लेकिन वापस नहीं लौटी. परिवार वालों ने काफी देर तक घर नहीं पहुंचने पर बच्ची की तलाश शुरू की. बाद में पुलिस को भी बच्ची के गायब होने की खबर दी. आखिरकार गन्ने के एक खेत से बच्ची का शव बरामद हुआ. पुलिस ने घटनास्थल से शव को कब्जे में लिया और पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया. रिपोर्ट में गैंगरेप की पुष्टि हुई, जिसके बाद पुलिस ने दो लोगों को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है. लखीमपुर खीरी जिले में ईसानगर थाना क्षेत्र के पकरिया गांव की रहने वाली 13 साल की मासूम बच्ची अपने घर से शौच के लिए खेत गई थी. तभी गांव के ही रहने वाले दो युवकों ने नाबालिग बच्ची के साथ रेप किया और उसकी हत्या कर दी. मौत से पहले बच्ची को असहनीय पीड़ा दी गई. उसकी आंख फोड़ी गई, उसकी जुबान काट दी गई और उसके गले में फंदा डालकर उसे घसीटा गया. बाद में आरोपी शव को गन्ने में फेंककर घटनास्थल से फरार हो गए.


13 साल की यह मासूम बच्ची 14 अगस्त को दोपहर करीब एक बजे अपने घर से शौच के लिए गन्ने के खेतों की तरफ गई थी, लेकिन देर रात तक जब वह वापस घर नहीं लौटी तो उसके परिवार वालों ने बच्ची की तलाश शुरू कर दी. उन्होंने पुलिस को भी इस बात की जानकारी दी. परिजन, पुलिस की टीम के साथ बच्ची की तलाश करने खेत की ओर बढ़े. तभी गन्ने के खेत में मासूम बच्ची का शव बरामद हुआ.


परिजनों ने गांव के ही रहने वाले संतोष यादव और संजय गौतम पर बच्ची के साथ रेप और हत्या का आरोप लगाया है. पुलिस ने बच्ची के परिजनों द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर दोनों युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर, बच्ची के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.


15 अगस्त को पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में बच्ची के साथ गैंगरेप की पुष्टि हुई है. जिसके बाद पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ हत्या और गैंगरेप का मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है, साथ ही NSA के तहत कार्रवाई शुरू कर दी है. बीएसपी प्रमुख मायावती ने इस घटना को लेकर योगी सरकार पर हमला किया है. उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा, ‘यूपी के लखीमपुर खीरी के पकरिया गांव में दलित नाबालिग के साथ बलात्कार के बाद फिर उसकी नृशंस हत्या अति-दुःखद और शर्मनाक है. ऐसी घटनाओं से समाजवादी पार्टी और वर्तमान बीजेपी सरकार में फिर क्या अन्तर रहा? सरकार आजमगढ़ के साथ खीरी के दोषियों के विरुद्ध भी सख्त कार्रवाई करे.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here