कंगना रनौत ने किसान आंदोलन में आयी ‘दादी’ को बताया शाहीन बाग की बिलकिस बानो, बाद में हटाया ट्वीट

248

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत हमेशा अपने मुखर बयानों के कारण चर्चा में रहती हैं। अब कंगना रनौत अपने एक ट्वीट को लेकर एक बार फिर से सुर्खियों में हैं। उन्हें सोशल मीडिया पर खूब ट्रोल किया जा रहा है। दरअसल उन्होंने बिना सच्चाई जाने किसान प्रोटेस्ट से जुड़े एक फेक ट्वीट को रीट्वीट किया था। ट्रोल होने के बाद वह इसको डिलीट कर चुकी हैं। हालांकि लोगों ने इसका स्क्रीनशॉट ले लिया है और उन्हें ट्रोल किया जा रहा है।

कंगना ने जिस ट्वीट को रीट्वीट किया था उसमें किसान प्रोटेस्ट में शामिल बुजुर्ग किसान दादी को शाहीन बाग की बिलकिस बानो बताया गया था। इसमें लिखा था कि दिहाड़ी के हिसाब से दादी से ये काम करवाया जाता है। कंगना ने इस पर कटाक्ष करते हुए रीट्वीट किया था। लिखा था, हा हा हा ये वही दादी हैं जिन्हें भारत के सबसे पावरफुल लोगों में शामिल किया था। ये 100 रुपये में अवेलेबल हैं। पाकिस्तान के पत्रकारों ने इंटरनैशनल पीआर को भारत के लिए शर्मनाक तरीके से हायर कर लिया है। हमें अपने ऐसे लोग चाहिए जो हमारे लिए इंटरनैशनली आवाज उठा सकें।

कंगना का ये ट्वीट आते ही उन्हें सोशल मीडिया पर ट्रोल किया जाने लगा। इसके बाद उन्होंने इसे डिलीट कर दिया। हालांकि इसके बाद भी एक यूजर के पोस्ट पर उन्होंने लिखा, ज्यादा एक्साइटेड हो रहे हो… ज्यादा एक्साइटमेंट आप जैसे जयचंद के लिए अच्छा नहीं। ये फेक न्यूज नहीं है, मेरे सोर्सेज अभी भी वेरिफाई कर रहे हैं। उन्होंने सवाल भी उठाया कि तुम्हारा सोर्स क्या है?

बिलकिस बानो (82) जिन्हें शाहीन बाग दादी भी कहा जाता है, वह CAA-NRC प्रोटेस्ट का चेहरा बनी थीं। वहीं हजारों किसान केंद्र के नए कृषि बिल का विरोध कर रहे हैं। इस विरोध प्रदर्शन में बुजुर्ग किसान दादी की तस्वीर सामने आई थी। कंगना ने दोनों को एक ही बताया था।