इंडोनेशिया में विमान क्रैश : प्लेन क्रैश से दहला देश, 62 यात्रियों की मौत, समुद्र में मिली लाशें और कपड़ों के चीथड़े

828

इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता से उड़ान भरने के बाद श्रीविजया एयर का विमान समुद्र में क्रैश हो गया। इस विमान में 62 यात्री सवार थे। विमान की खोज के लिए बचाव अभियान शुरू किया गया है। विमान के क्रैश होने के एक दिन बाद इंडोनेशियाई बचाव दल ने जावा सागर से शरीर और कपड़ों के चीथड़े निकाले हैं। एसोसिएटेड प्रेस ने रविवार को यह जानकारी दी .

जानकारी के मुताबिक, यह विमान राजधानी जकार्ता से पोन्टिआनक जा रहा था। फ्लाइट संख्या एसजे182 ने दोपहर करीब 1.56 बजे उड़ान भरी थी और 2.40 बजे उसका एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) से संपर्क टूट गया था। सूत्रों को कहना है कि बचाव दल को समुद्र में मलबा मिला है। हालांकि यह मलबा इसी विमान का है इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। बताया जा रहा है कि यात्रियों को ले जा रहा बोइंग 737-500 विमान करीब 27 साल पुराना था। यह 2018 में जकार्ता में क्रैश हुए लाइन एयर के विमान बोइंग 737 मैक्स से भी काफी पुराना था।  

इंडोनेशिया के परिवहन मंत्री बुदी कारया ने बताया, विमान में चालक दल के 12 सदस्यों समेत 62 लोग सवार हैं, जिनमें दस बच्चे भी शामिल हैं। देश की खोज व बचाव एजेंसी बासरनास के प्रमुख बागुस पुरुहितो ने बताया कि करीब 50 टीमों को विमान खोज अभियान में लगाया गया है। वहीं, कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि हम स्थिति पर करीब से नजर बनाए हुए हैं और उड़ान को लेकर जानकारी जुटा रहे हैं। इस बीच, स्थानीय मीडिया ने मछुआरों के हवाले से जकार्ता के उत्तर में विमान का मलबा मिलने का दावा किया है। वहीं त्रिसुला तट रक्षक जहाज के कमांडर कैप्टन ईको सूर्या हादी ने भी समुद्र में मानव अंग और मलबा देखे जाने की बात कही है।