मिलिंद सोमन की पत्नी अंकिता बोली -मेडल जीतने पर भारतीय वरना चिंकी,चाइनीज,कोरोना नाम से बुलाते हैं लोग

393

मीराबाई चानू ने टोक्यो ओलंपिक्स 2020 में सिल्वर मेडल जीतकर इंटरनेशनल लेवल पर देश का परचम लहराया है। नॉर्थ ईस्ट इंडिया के मणिपुर की रहने वाली मीराबाई की जीत का पूरा देश जश्न मना रहा है और फक्र से मीराबाई का नाम ले रहा है। हालांकि ऐसे तमाम मेडल्स के बावजूद नॉर्थ ईस्ट इंडिया के लोगों के लिए अक्सर ऐसे कमेंट करते हैं जिसे अनदेखा नहीं किया जा सकता है। नॉर्थ ईस्ट की ही रहने वाली मिलिंद सोमन की पत्नी अंकिता कोंवर ने इस मामले में आवाज उठाई है।

अंकिता ने अपने इंस्टाग्राम पोस्ट में नॉर्थ ईस्ट के लोगों के साथ भेदभाव करने वाले लोगों पर अपना गुस्सा निकाला है। अंकिता लिखती हैं- ”अगर आप नॉर्थईस्ट इंडिया से हैं तो आप सिर्फ तभी इंडियन कहला सकते हैं जब आप देश के लिए मेडल जीतें, अन्यथा हम लोग ‘चिंकी’, ‘चाइनीज’, ‘नेपाली’ और एक नया एडिशन ‘कोरोना’ नाम से ही जाने जाते हैं।

इंडिया में सिर्फ जातिवाद नहीं बल्कि रंगभेद भी है। अपने एक्सपीरियंस से कह रही हूं।”

गुवाहाटी की रहने वाली अंकिता के अलावा एक्सोन ने भी इस बारे में अपनी राय रखी थी जो फिल्म मैरी कॉम में सपोर्टिंग रोल में नजर आई थीं। मणिपुर की रहने वाली एक्ट्रेस लिन लैशराम ने एक बार कहा था कि फिल्म मैरी कॉम में प्रियंका ने बहुत मेहनत की है लेकिन किसी नॉर्थ ईस्ट लड़की को क्यों नहीं लिया गया, जो हमारा प्रतिनिधित्व करती। जब भी किसी नॉर्थ ईस्ट की अचीवर का रोल प्ले करने की बारी आती है तो गैर-नॉर्थईस्ट व्यक्ति का चयन किया जाता है।