कोरोना टीका: देश में 1.37 करोड़ से ज्‍यादा दी गई कोविड वैक्‍सीन की खुराक, एक मार्च से शुरू होगा टीकाकरण का दूसरा चरण

1413
vaccination for children
vaccination for children

देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों ने एकबार फिर चिंता बढ़ा दी है। बीते 24 घंटे में कोरोना के 16,577 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 1,10,63,491 हो गए। हालांकि इनमें से 1,07,50,680 लोग संक्रमण मुक्त भी हुए हैं। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के मुताबिक बीते 24 घंटे में 120 और लोगों की संक्रमण से मौत हो गई जिससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,56,825 हो गई है। वहीं टीकाकरण अभियान भी जारी है और अब तक कुल 1.37 करोड़ से अधिक कोविड वैक्‍सीन की डोज लाभार्थियों को दी जा चुकी है।

वहीं देश में अब तक कुल 1,37,56,940 कोविड वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है। स्वास्थ्यकर्मियों को अब तक 88,41,132 डोज दी गई है। जिसमें 66,37,049 स्वास्थ्यकर्मियों को पहली डोज लगाई है। 22,04,083 स्वास्थ्यकर्मियों को दूसरी डोज दी गई है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के मुताबिक अब तक 49,15,808 फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन की डोज दी गई है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को बताया कि शुक्रवार शाम छह बजे तक की रिपोर्ट के अनुसार अब तक 2,89,320 सत्रों में कोविड वैक्‍सीन की की कुल 1,37,56,940 खुराक दी जा चुकी हैं। इनमें 66,37,049 यानी 76.6 फीसद ऐसे स्वास्थ्यकर्मी हैं जिन्हें टीके की पहली खुराक दी गई है जबकि 22,04,083 यानी 62.9 फीसद ऐसे हैं जिन्हें टीके की दूसरी खुराक दी गई है। यही नहीं अग्रिम पंक्ति के 49,15,808 यानी 47.7 फीसद कर्मियों को टीके की पहली खुराक दी गई है।

मालूम हो कि देश में कोरोना की रोकथाम के लिए टीकाकरण अभियान की शुरुआत 16 जनवरी से हुई थी। अग्रिम पंक्ति के कर्मियों को टीका लगाने की शुरुआत दो फरवरी से हुई थी। केंद्रीय स्‍वास्थ्‍य मंत्रालय ने बताया कि टीकाकरण के 42वें दिन शुक्रवार को शाम छह बजे तक वैक्‍सीन की कुल 2,84,297 खुराक दी गई। इनमें से 1,13,208 लाभार्थियों को पहली जबकि 1,71,089 स्वास्थ्यकर्मियों को दूसरी खुराक दी गई।

इस बीच देश में 60 साल से अधिक उम्र एवं पहले से किसी बीमारी से ग्रसित 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को एक मार्च से कोविड-19 रोधी टीका लगाने तैयारियां जोरों पर हैं। इन्‍हीं तैयारियों के लिए इस शनिवार एवं रविवार को टीकाकरण सत्र का आयोजन नहीं होगा। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के मुताबिक शनिवार और रविवार को दो दिन को-विन डिजिटल मंच को को-विन 1.0 से को-विन 2.0 में ले जाने का काम किया जाएगा।

देश में 60 साल से अधिक उम्र के लोगों और पहले से किसी बीमारी से ग्रसित 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के लिए ऑन-साइट पंजीकरण कराने की सुविधा भी उपलब्ध होगी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को बताया कि टीके के लाभार्थी को-विन 2.0 पोर्टल डाउनलोड कर और आरोग्य सेतु आदि मोबाइल ऐप के जरिए पहले भी अपना पंजीकरण करा सकते हैं। साथ ही अपनी पसंद के कोविड-19 टीकाकरण केंद्र को भी चुन सकते हैं।

वहीं संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कोरोना गाइडलाइन को 31 मार्च तक जारी रखने का फैसला किया है। गृह मंत्रालय ने कहा है कि कोविड-19 संक्रमण के मामलों पर नजर रखने के साथ ही सतर्कता बनाए रखने की जरूरत है। गाइडलाइंस में मास्क पहनना, शारीरिक दूरी का पालन करना, सैनिटाइजर का इस्तेमाल और हाथ की स्‍वच्‍छता को बढ़ावा देना शामिल है। आधिकारिक बयान में कोविड एसओपी का पालन करने के निर्देश भी दिए गए हैं।

महाराष्ट्र में संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए एहतियात के तौर पर यवतमाल जिले में शनिवार शाम पांच बजे से सोमवार सुबह नौ बजे तक कर्फ्यू लगाया गया है। हालांकि इस दौरान आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी। बीते 24 घंटे में महाराष्‍ट्र में कोरोना संक्रमण के 8,807 नए मामले सामने आए हैं जबकि केरल में 4,106 और पंजाब में 558 नए मामले सामने आए हैं। बीते 24 घंटे में महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण से 80 लोगों की मौत हुई है।