भारत ने इराक के प्रधानमंत्री मुस्तफा अल कदीमी पर हमले की निंदा की

199

भारत ने रविवार को इराक के प्रधानमंत्री मुस्तफा अल-कदीमी पर विस्फोटकों से लैस ड्रोन से किए गए हमले की कड़ी निंदा की और कहा कि किसी भी सभ्य समाज में आतंकवाद और हिंसा का कोई स्थान नहीं है. रविवार को हुए हमले में कदीमी बाल-बाल बच गए. बगदाद के उच्च सुरक्षा वाले ग्रीन जोन इलाके में उनके आवास को निशाना बनाने के लिए विस्फोटकों से लदे ड्रोन का इस्तेमाल किया गया. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि ‘आज सुबह ड्रोन हमले में इराकी प्रधानमंत्री मुस्तफा अल-कदीमी की हत्या के प्रयास की हम कड़ी निंदा करते हैं.’

भारत ने की कड़ी निंदा

उन्होंने कहा कि ‘किसी भी सभ्य समाज में आतंकवाद और हिंसा का कोई स्थान नहीं है. उन्हें इराक में शांति और स्थिरता को कमजोर करने की अनुमति नहीं दी जा सकती.’ खबरों के मुताबिक, हमले में प्रधानमंत्री कदीमी के छह सुरक्षा गार्ड घायल हो गए. इस हमले के बारे में मीडिया द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब में बागची ने कहा कि ‘हमले में हताहत हुए लोगों के प्रति हम अपनी चिंता व्यक्त करते हैं और इराक में लोकतांत्रिक प्रक्रिया के लिए अपना समर्थन दोहराते हैं.’

इराकी पीएम ने कहा ऐसे हमले से नहीं डरते

वहीं जानलेवा हमले से बचने के बाद इराक के प्रधानमंत्री मुस्तफा अल-कदीमी ने एक टेलीविजन पर दिए गए मैसेज के जरिए बताया कि वह पूरी से ठीक हैं, उन्हें किसी प्रकार का कोई नुकसान नहीं हुआ है. उन्होंने इसके बाट ट्वीट कर कहा है कि देशद्रोही उनकी दृढ़ता और दृढ़ संकल्प को नहीं हिला पाएंगे. इसके साथ ही उन्होंने इराक के लोगों से शांती बनाए रखने को कहा है.