हिमाचल कैबिनेट की आज होगी बैठक, कोरोना संक्रमण को लेकर हो सकता है सख्त फैसला, बजट भाषण पर भी हो सकती है चर्चा

496

हिमाचल प्रदेश में कोरोना के सामूहिक मामले फिर से बढ़ने लगे हैं। इसी को देखते हुए गुरुवार को होने वाली प्रदेश कैबिनेट की बैठक में कुछ सख्त फैसले लिए जा सकते हैं, ताकि कोरोना को दोबारा बढ़ने से रोका जा सके। बुधवार को प्रदेश में 77 नए मरीज सामने आए हैं। इनमें एक साथ बिलासपुर जिले के घुमारवीं में प्रिंस हौजरी में 16 मामले आए हैं। इस कारण  प्रिंस हौजरी को सील कर दिया गया है। इसके अलावा सोलन-सिरमौर में 14-14, कांगड़ा में 9, शिमला में 8, कुल्लू 5, और चंबा-मंडी-ऊना में 3-3 मामले सामने आए हैं।

कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर सरकार प्रदेश मे फिर बंदिशें लगा सकती है। कैबिनेट बैठक में इस पर चर्चा होगी। स्वास्थ्य विभाग ने मेडिकल कॉलेज प्रशासन और सीएमओ को सतर्क रहने को कहा है। स्वास्थ्य संस्थान को सैंपल बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं। कोरोना से प्रदेश में अब तक 983 लोगों की मौत हो चुकी है। हमीरपुर जिला जहां पहले कोरोना मुक्त हो गया था, वहीं अब यहां 9 एक्टिव मामले हैं। जिला कांगड़ा में सबसे ज्यादा 227 एक्टिव मामले हैं। ऊना में 53 और जिला सोलन में 48 मामले हैं। 

कैबिनेट की बैठक में छह मार्च को मुख्यमंत्री की ओर से पेश किए जा रहे वित्तीय वर्ष 2021-22 के बजट भाषण और विनियोग विधेयक पर मंत्रणा होगी। निजी स्कूलों की फीस नियंत्रित करने के लिए बनाए जा रहे नए कानून को वीरवार को प्रस्तावित मंत्रिमंडल की बैठक में नहीं रखा जाएगा।