ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर अस्थायी रोक बढ़ाई जा सकती है, हम अभी इस पर विचार कर रहे हैं: केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी

    307

    नागरिक उड्डयन मंत्रालय की ओर से मंगलवार को एक प्रेसवार्ता का आयोजन किया गया। इसमें मंत्रालय की ओर से बताया गया कि कोरोना के नए स्ट्रेन के सामने आने की वजह से ब्रिटेन के लिए उड़ानों पर लगी अस्थायी रोक अभी और आगे बढ़ सकती है। मंत्रालय ने देश में वैक्सीन के ट्रांसपोर्ट (यातायात) को लेकर भी जानकारी दी।

    कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन सामने आने की वजह से यूनाइटेड किंगडम के लिए उड़ानों पर लगी अस्थायी रोक और आगे बढ़ सकती है। इसे लेकर केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि मुझे लगता है कि यह अस्थायी रोक थोड़ी और बढ़ेगी। लेकिन मुझे नहीं लगता है कि यह रोक बहुत लंबे समय तक रहेगी।

    कोविड-19 वैक्सीन के यातायात में एयर इंडिया के विनिवेश पर नागरिक उड्डयन मंत्रालय के सचिव प्रदीप सिंह खरोला ने कहा कि अभी तक हमारे सामने कई तरह से रुचि दिखाई गई है। उन्होंने कहा कि इस प्रक्रिया के अगले कदम में, पात्र बोलीदाताओं को इसके लिए प्रस्ताव का अनुरोध पेश करने के लिए कहा जाएगा। 

    वैक्सीन के यातायात को लेकर मंत्रालय ने कहा कि इस काम में एयरलाइंस समेत सभी हिस्सेदारों को अलर्ट कर दिया गया है। वैक्सीन के बारे में पूरा विवरण जानने के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और फार्मास्यूटिकल्स विभाग इसके लिए मानक संचालन प्रक्रियाएं तैयार करेंगे। इसके लिए विस्तृत एसओपी निर्धारित की जाएंगी।

    कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर  केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक अहम जानकारी साझा की। मंत्रालय ने कहा कि सभी अंतरराष्ट्रीय यात्री जो पिछले 14 दिन में (नौ दिसंबर से 22 दिसंबर के बीच) भारत आए हैं, अगर उनमें लक्षण हैं और उनकी कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आती है तो उन्हें जीनोम सीक्वेंसिंग में शामिल किया जाएगा। 

    इसके साथ ही स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने बताया कि कोविड-19 टीकाकरण का ड्राय रन (अभ्यास) तीन राज्यों में सफलतापूर्वक पूरा किया गया है। मंत्रालय ने बताया कि कोविड-19 टीकाकरण के लिए यह ड्राय रन 28 और 29 दिसंबर को असम, आंध्र प्रदेश, पंजाब और गुजरात में आयोजित किया गया था।