वेंटिलेटर पर पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी, बेटी ने याद किया एक साल पहले का दिन जब उन्हे मिला था भारत रत्न

183
FILE PHOTO

पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी इस समय अस्‍पताल में भर्ती हैं और ब्रेन सर्जरी के बाद उनकी स्थिति गंभीर बताई गई है. दिल्‍ली स्थित आर्मी अस्‍पताल की ओर से जारी बुलेटिन में बताया गया है कि 84 वर्षीय प्रणब की स्थिति और बिगड़ गई है. इस मुश्किल घड़ी में प्रणब मुखर्जी की बेटी और कांग्रेस नेता शमिष्‍ठा मुखर्जी ने अपने पिता को लेकर ट्वीट किया है. शमिष्‍ठा ने उस दिन को याद किया है जिस दिन उनके पिता को देश का सर्वोच्‍च अवार्ड भारत रत्‍न हासिल हुआ था. प्रणब दा को पिछले साल भारत रत्‍न से नवाजा गया था. शमिष्‍ठा ने उनके पिता के शीघ्र स्‍वास्‍थ्‍य लाभ की कामना करने वाले लोगों को भी धन्‍यवाद दिया है.

पूर्व राष्‍ट्रपति की बेटी ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘पिछले साल आठ अगस्‍त मेरी जिंदगी का सबसे खुशी भरा दिन था जब मेरे पिता ने भारत रत्‍न हासिल किया था. ठीक एक साल बाद, 10 अगस्‍त को वे बीमार हो गए. ईश्‍वर उनके लिए जो सर्वश्रेष्‍ठ हो, वह करे और मुझे खुशी और दुख एक जैसी भावना से सहन करने की शक्ति प्रदान करे. मैं उनके स्‍वास्‍थ्‍य को लेकर चिंता जताने वाले सभी का शुक्रिया अदा करती हूं.’

गौरतलब है कि पूर्व राष्ट्रपति कोरोना वायरस संक्रमण से भी जूझ रहे हैं. इसकी जानकारी उन्होंने ट्वीट के जरिए सोमवार को दी. आर्मी अस्पताल के बयान के अनुसार “ब्रेन क्लॉट के लिए 10 अगस्त 2020 को पूर्व राष्ट्रपति की इमरजेंसी सर्जरी की गई. उनकी हालत में कोई सुधार नहीं दिख रहा है. उनका स्वास्थ्य और खराब हो गया है. वह अब भी वेंटिलेटर पर हैं.” दरअसल, प्रणब दा के मस्तिष्क में एक थक्का (Clot) था, जिसे निकालने के लिए उनका ऑपरेशन किया गया है. 84 वर्ष के प्रणब मुखर्जी दिल्ली में आर्मी हॉस्पिटल रिसर्च एंड रेफरल में भर्ती हैं. 2012 से 2017 तक देश के राष्ट्रपति रहे प्रणब मुखर्जी ने सर्जरी से पहले सोमवार को ट्वीट किया. उन्होंने पिछले एक हफ्ते में अपने संपर्क में आए लोगों से खुद को आइसोलेट करने और कोरोनावायरस का टेस्ट कराने का अनुरोध किया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here