यूपी: विंध्याचल के राम गया घाट पर यात्रियों से भरी नाव गंगा में डूबी, 18 लोग थे सवार, CM योगी ने लिया संज्ञान

688

उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले में एक दर्दनाक मामला सामने आया है। विंध्याचल के राम गया घाट पर यात्रियों से भरी नाव गंगा में डूब गई। नाव में महिलाएं और पुरुष सवार थे। शोर मचाने पर गंगा किनारे मौजूद मल्लाहों ने पुलिस को सूचना देकर नाव से बचाव कार्य शुरू किया। सूचना के बाद मौके पर पहुंचे स्टीमर की मदद से उन्हें बाहर निकाला गया है। ठंड होने के चलते कई लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है।

जानकारी के अनुसार, विंध्याचल कोतवाली क्षेत्र के राम गया घाट के आसपास रहने वाले लोग गंगा पार मटर के खेत में मजदूरी करने के लिए जाते हैं। मंगलवार की सुबह 10 बजे चार नाव से सभी गंगा पार जा रहे थे। इसमें तीन बड़ी नावों पर सवार होकर सभी लोग गंगा के उस पार पहुंच गए लेकिन छोटी नाव में सवार 18 लोगों की नाव बीच गंगा में पलट गई।

नाव पलटने पर उसमें सवार एक पुरुष और महिला व लड़कियां डूबने लगीं। नाव डूबते देख वहां मौजूद लोगों ने तुरंत पुलिस को फोन कर सूचना दी। मौके पर मल्लाह और पुलिस भी पहुंच गई। मल्लाहों न पुलिस की मदद से सभी 18 लोगों को गंगा से बाहर निकाल लिया।

इस दौरान पुलिस ने 13 पुरुष व महिलाओं को विंध्याचल के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। वहीं, एक की हालत गंभीर देखते हुए मंडलीय अस्पताल भेज दिया गया। 12 लोगों को सीएचसी में भर्ती कराया है, जहां उपचार चल रहा है।

नाव डूबने की हुई घटना पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी संज्ञान लिया है। उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों को तत्काल मौके पर पहुंचकर बचाव कार्य करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही हर संभव मदद उपलब्ध कराने के लिए कहा है।