मनी लॉन्ड्रिंग: आप नेता पंकज गुप्ता को ईडी का नोटिस, केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर लगाया ये आरोप

248
Arvind Kejriwal

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव पंकज गुप्ता को मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत पूछताछ का नोटिस जारी किया है. पंकज गुप्ता को 22 सितंबर को पूछताछ के लिए ईडी मुख्यालय बुलाया गया है. यह पूछताछ उनसे आम आदमी पार्टी के पंजाब से विधायक रहे सुखपाल सिंह खैरा के मामले में की जा रही है. आम आदमी पार्टी ने इस नोटिस पर केंद्र सरकार की जमकर खिंचाई की है, तो उधर बीजेपी ने आप पार्टी पर प्रहार करते हुए कहा है कि यदि कुछ गलत नहीं किया है तो नोटिस से डर कैसा.

प्रवर्तन निदेशालय सूत्रों के मुताबिक पंजाब से आम आदमी पार्टी के पूर्व विधायक सुखपाल सिंह खैरा पर पिछले दिनों छापेमारी की गई थी. यह छापेमारी मादक पदार्थों की तस्करी, अवैध पासपोर्ट और मनी लॉन्ड्रिंग से संबंधित थी. इस मामले में पंजाब की जेल में बंद कुछ कैदियों पर भी छापेमारी की गई थी. इस छापेमारी के दौरान ईडी को पता चला था कि सुखपाल सिंह खैरा के पास 1 लाख यूएस डॉलर आए हैं और खैरा ने अमेरिका से यह धन आम आदमी पार्टी के लिए चंदे के तौर पर लिया था.

ईडी सूत्रों के मुताबिक अब तक की जांच के दौरान यह स्पष्ट नहीं हो पाया कि यह रकम किसने और क्यों दी. पूछताछ के दौरान इस मामले में यह भी पता चला कि साल 2016-17 के दौरान यह रकम आई थी. पूछताछ के दौरान पंकज गुप्ता का नाम सामने आने के बाद उन्हें पूछताछ के लिए 22 सितंबर को ईडी मुख्यालय तलब किया गया है. ईडी जानना चाहती है कि रकम का स्रोत क्या था ? किन लोगों द्वारा दी गई थी ? और क्या इस रकम को हाथों में दिखाया गया था ?

उधर आम आदमी पार्टी ने ईडी के इस नोटिस पर केंद्र सरकार पर करारा हमला बोला है. पार्टी प्रवक्ता राघव चड्ढा के मुताबिक केंद्र सरकार आप पार्टी को बदनाम करने के लिए यह हथकंडे अपना रही है और प्रवर्तन निदेशालय को टूल के तौर पर प्रयोग कर रही है. आप प्रवक्ता ने केंद्र सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि बहुत जल्द ही भाजपा में ईडी प्रवक्ता भी देखने को मिल सकते हैं .उधर भाजपा ने आप पार्टी को जवाब देते हुए कहा कि यदि कोई गलत काम नहीं किया है तो फिर नोटिस से डर कैसा. फिलहाल इन आरोप-प्रत्यारोप के बीच आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव पंकज गुप्ता से प्रवर्तन निदेशालय 22 सितंबर को ईडी मुख्यालय में पूछताछ करेगा.