दिग्विजय सिंह ने फिर दिया विवादित बयान, कहा – ‘सरस्वती स्कूलों में बच्चों में नफरत का बीज बोया जाता है’

244
Digvijay Singh

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह का एक और विवादित बयान सामने आया है। दिग्विजय सिंह ने कहा कि ‘सरस्वती स्कूलों में बच्चों में नफरत का बीज बोया जाता है।’ अपने बयानों के चलते हमेशा विवादों में रहने वाले मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर से विवादित बयान दिया है। उनका एक बयान सोशल मीडिया में काफी वायरल हो रहा है, जिसमें उन्होंने सरस्वती स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के मन में नफरत का बीज बोने का आरोप लगाया है।

दरअसल, बीते शनिवार को दिग्विजय सिंह ने 19 विपक्षी दलों द्वारा राज्य सरकार और केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ आयोजिय धरने को संबोधित करते हुए यह विवादास्पद बयान दिया है। बयान में उन्होंने कहा था बचपन से ही सरस्वती शिशु मंदिर में बच्चों के दिल और दिमाग में दूसरे धर्मों के खिलाफ नफरत का बीज बोया जाता है और वही नफरत का बीज आगे बढ़कर देश में सांप्रदायिक सद्भाव को बिगाड़ता है, सांप्रदायिक कटुता पैदा करता है, धार्मिक उन्माद फैलाता है और देश में दंगे फसाद होते हैं।

दिग्विजय सिंह का यह बयान आने के बाद भाजापा के नेता फ्रंट फुट पर आ गए हैं और दिग्विजय सिंह पर खुलकर हमला बोला है। अपनी कट्टरवादी हिंदू छवि के लिए जाने जाने वाले भोपाल के हुजूर क्षेत्र से विधायक रामेश्वर शर्मा ने दिग्विजय सिंह की आड़ में मदरसों पर ही हमला बोल दिया। उन्होंने कहा तुम मदरसों के बारे में बोलो जहां आतंकवाद को पैदा किया जाता है, जहां मानवता को कुचला जाता है, जहां बेटियों की इज्जत लूटी जाती है, उसके बाद भी कहा जाता है- मदरसा है बंद करना है तो मदरसों को बंद करो, उनकी तालीम पर विचार करो वहां से अलगाववाद फैलता है, आतंकवाद फैलता है वैमनस्यता फैलती है। वहीं शिशु मंदिर में राष्ट्रप्रेम धर्म प्रेम के संस्कार दिए जाते हैं।

वहीं भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा भी सामने आए और उन्होंने दिग्विजय सिंह से सवाल पूछा कि दिग्विजय सिंह यह बताएं कि देश के अंदर राष्ट्रवादी लोग कहां तैयार होते हैं? क्या दिग्विजय सिंह राष्ट्रवादी लोगों को तैयार करते हैं? जो व्यक्ति भारत के आतंकवादियों को सम्मानित करे, जो व्यक्ति भारत के आतंक को समर्थन करे, जो व्यक्ति नक्सलवाद के समर्थन में खड़ा हो, जो व्यक्ति मोहन चंद शर्मा जो बाटला हाउस शहीद हुए उनकी एनकाउंटर में उनकी शहादत पर सवाल खड़े किए की ये फर्जी एनकाउंटर है, जो व्यक्ति सेना की सर्जिकल स्ट्राइक जो 130 करोड़ लोगों का गौरव है, सेना के लोगों ने अगर हमारे लोगों पर हमला हुआ तो सेना ने उसका जवाब पाकिस्तान में जाकर जवाब दिया, उसके लिए दिग्विजय सिंह कहते हैं इसका प्रूफ क्या है? ऐसे व्यक्ति राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विचार पर सरस्वती शिशु मंदिर जो दिनभर देशभक्ति का भाव जागृत करते हैं, राष्ट्रभक्त नागरिक तैयार करने का काम करते हैं तो देख रहे थे कि यह बताएं कि उनकी कौन सी संस्था है जहां राष्ट्रभक्त तैयार होते हैं।

वहीं भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा ने भी दिग्विजय सिंह पर करारा हमला बोला। दिग्विजय सिंह के सरस्वती स्कूल मंदिरों पर दिए बयान को लेकर भोपाल से सांसद साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि, दिग्विजय सिंह विधर्मी हैं। जिसे हिन्दू होने का प्रमाण देना पड़ जाए, वो हिन्दू तो नहीं हो सकता।