डिजिटल पेमेंट सर्विसेज को और मजबूत बनाने के लिए RBI का बड़ा ऐलान, 24×7 काम करने वाली एक हेल्‍पलाइन बनाने का फैसला

304

भारतीय रिजर्व बैंक ने एक बार फिर मौद्रिक समिति बैठक में ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं करने का फैसला लिया है. यह लागतार चौथी बार है जब आरबीआई ने नीतिगत ब्याज दरों को बरकरार रखा है. फिलहाल रेपो रेट 4 फीसदी और रिवर्स रेपो रेट 3.35 फीसदी पर है.

इस दौरान डिजिटल पेमेंट सर्विसेज को और मजबूत बनाने के लिए आरबीआई ने डिजिटल पेमेंट सेवाओं के लिए 24×7 काम करने वाली एक हेल्‍पलाइन बनाने का ऐलान किया है. केद्रीय बैंक ने कहा कि लोगों को डिजिटल पेमेंट सेवाओं में आने वाली किसी भी तरह की समस्या को दूर करने के लिए सभी पेमेंट सिस्टम ऑपरेटर्स को एक 24×7 की हेल्पलाइन शुरू करनी होगी. यह सेवा सितंबर तक शुरू हो जाएगी.

इस दौरान रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा, ”डिजिटल पेमेंट की पहुंच में इजाफा हुआ है. इसकी कुशलता भी बढ़ी है. इसे देखते हुए प्रमुख पेमेंट सिस्‍टम ऑपरेटरों को सेंट्रलाइज्‍ड 24×7 हेल्‍पलाइन बनाने की जरूरत है. इसकी मदद से डिजिटल पेमेंट प्रोडक्‍टों से जुड़े ग्राहकों के सवालों के जवाब दिए जाएंगे.”

दास ने आगे कहा, ”इसके जरिए ग्राहकों को डिजिटल पेमेंट से जुड़ी शिकायतों को निपटाने के लिए अभी उपलब्‍ध सिस्‍टम की जानकारी भी दी जाएगी. आगे चलकर इस फैसिलिटी के जरिए ग्राहकों की शिकायत दूर करने के बारे में भी विचार किया जाएगा. यह हेल्‍पलाइन डिजिटल पेमेंट ईकोसिस्‍टम में ग्राहकों का भरोसा बढ़ाएगी.”