दिल्ली की आबो-हवा आज भी ‘बहुत खराब’, हर सांस में घुल रहा प्रदूषण का जहर

    192

    राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (Delhi) और उसके आसपास के शहरों यानी NCR की आबो-हवा (Pollution) आज यानी गुरुवार को भी ‘बहुत खराब’ की श्रेणी में ही बनी हुई है. सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फॉरकास्टिंग एंड रिसर्च (SAFAR) ने गुरुवार सुबह 6.33 बजे का औसत एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) 362 दर्ज किया, जो बुधवार को 379 था.

    प्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने भी बुधवार को सुनवाई के दौरान अधिकारियों को खूब लताड़ लगाई है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा, प्रदूषण के मामले में में ब्‍यूरोक्रेट्स कुछ नहीं करना चाहते हैं. राज्य सरकारें अपनी-अपनी ओर से कई कदम उठा रही हैं, ताकि दिल्ली-एनसीआर को प्रदूषण से मुक्ति मिल सके. दिल्ली सरकार ने एक हफ्ते के लिए सभी स्कूल और शैक्षणिक संस्थान बंद कर दिए हैं.

    दिल्ली में सरकारी कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम का आदेश दिया गया है. पड़ोसी राज्य हरियाणा ने भी एनसीआर के चार जिलों में अगले हफ्ते से ऑड-ईवन (Odd-Even) नियम लागू करने का निर्णय लिया है. यही नहीं 14 जिलों में 22 नवंबर तक वर्क फ्रॉम होम (Work From Home) का भी सुझाव दिया गया है.

    प्रदूषण फैलाने वाली गाड़ियों पर सख्ती दिखाते हुए दिल्ली परिवहन विभाग ने उन गाड़ियों का पेट्रोल पंप पर ही 10 हजार रुपये का चालान करने शुरू किया है, जिनके पास प्रदूषण नियंत्रण प्रमाण (PUC) पत्र नहीं है.