बेहद घातक है कोरोना की दूसरी लहर, राजधानी में सामने आए 25,986 नए मामले, एक दिन में 368 की मौत

203
corona update today

दिल्ली में कोरोना का कहर कम होने का नाम ही नहीं ले रहा है। दूसरी लहर बेहद घातक साबित हो रही है। जानकारी के अनुसार बुधवार को दिल्ली में कोरोना के 25,986 नए मामले सामने आए और 368 लोगों की मौत हो गई। 

आपको बता दें कि राजधानी में कोरोना वायरस की जांच एक बार फिर से बढ़ने लगी है। पिछले एक दिन में 80 हजार से ज्यादा सैंपल की जांच की गई जिसका असर यह रहा कि संक्रमण दर में थोड़ी बहुत राहत मिली है। 

विभाग के अनुसार पिछले एक दिन में 81829 सैंपल की जांच की गई जिसमें 31.76 फीसदी संक्रमित मिले हैं। इस दौरान 368 मरीजों की मौत हुई है। जबकि 20458 मरीजों को डिस्चॉर्ज किया गया। पिछले एक दिन में राजधानी में 25986 लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं। 

जानकारी मिली है कि अस्पतालों में मरीजों का भार कम करने के लिए भी मरीजों को डिस्चॉर्ज किया जा रहा है। हालांकि अस्पताल से डिस्चॉर्ज होने के बाद भी मरीजों को 15 दिन के लिए होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी है। 

फिलहाल दिल्ली में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 10,53,701 हो चुकी है जिनमें से 9,39,333 मरीज स्वस्थ्य हो चुके हैं। जबकि 14616 लोगों की मौत हो चुकी है। इसी के साथ ही सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर एक लाख के करीब पहुंच चुकी है। अभी दिल्ली में 99752 सक्रिय मरीज हैं जिनमें से 53819 मरीज होम आइसोलेशन में हैं। दिल्ली सरकार के अनुसार 1683 बेड अस्पतालों में खाली हैं। जबकि अस्पतालों के अनुसार उनके यहां आईसीयू, वेंटिलेटर और ऑक्सीजन बेड खाली नहीं है। इसी के साथ ही दिल्ली में 33749 इलाके कोरोना के दायरे में आ चुके हैं। इन इलाकों को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया है। 

एक दिन में 51 हजार लोगों ने लिया वैक्सीन
स्वास्थ्य विभाग ने जानकारी दी है कि बुधवार को दिल्ली में 51 हजार से ज्यादा लोगों ने वैक्सीन लगवाया। 51718 में से 32272 ने पहली और 19446 ने दूसरी डोज ली है। अब तक 3101562 लोग वैक्सीन ले चुके हैं जिनमें से 618784 दोनों डोज लेकर वैक्सीन कोर्स पूरा कर चुके हैं। 

कम पहुंच रही ऑक्सीजन : दिल्ली सरकार
दिल्ली सरकार का कहना है कि उन्हें पिछले एक दिन में 402 मीट्रिक टन ऑक्सीजन मिला। जबकि उससे पहले सोमवार को 408 मीट्रिक टन मिला था। जबकि केंद्र ने 21 अप्रैल को 480 मीट्रिक टन और 25 अप्रैल को 490 मीट्रिक टन आवंटित किया। इसके बाद भी दिल्ली को पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिल पा रही है। 

ऑक्सीजन के लिए सिलेंडर खरीद रही सरकार
ऑक्सीजन की आपूर्ति को लेकर सरकार ने बड़े पैमाने पर सिलेंडर खरीदना शुरू कर दिया है। इससे बहुत से छोटे अस्पतालों की कमी का सामना करना पड़ रहा है। इनके अलावा रिफिलिंग स्टेशनों को विनियमित करने पर भी काम कर रहे हैं। जिस तरह मुख्य अस्पतालों में ऑक्सीजन के प्रवाह को स्थिर करने में कामयाब रहे, ठीक उसी तरह अगले कुछ दिनों में भी इन्हें स्थिर कर पाएंगे।