कांग्रेस नेता अरुण यादव का ज्योतिरादित्य सिंधिया पर निशाना बोले , आजादी की लड़ाई में ‘सिंधिया’ राजघराने ने देश के साथ गद्दारी की

247

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने सिंधिया राजघराने पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि सिंधिया राजघराना वह है, जब देश के लोग आजादी के लिए संघर्ष कर रहे थे, तब ये लोग अंग्रेजों के जूते-चप्पल उठाकर देश के साथ गद्दारी कर रहे थे। दतिया जिले के भांडेर विधानसभा क्षेत्र में पार्टी उम्मीदवार के समर्थन में आयोजित जनसभा में सोमवार को पार्टी के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अरुण यादव के निशाने पर कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनका परिवार निशाने पर रहा।

यादव ने कहा कि “कांग्रेस के पच्चीस लोग पार्टी छोड़कर गए हैं, उनके मुखिया ज्योतिरादित्य सिंधिया हैं, वे उस राजघराने के हैं, जिसने देश की आजादी की लड़ाई में गद्दारी की थी।”

उन्होंने कहा कि कांग्रेस छोड़कर गए ज्योतिरादित्य सिंधिया के परिवार का पुराना इतिहास है, इनकी तीन पीढ़ी का इतिहास है, देश की आजादी का इतिहास है, जब देश आजाद हो रहा था, तब हमारे पुरखे झंडा लेकर लड़ाई लड़ रहे थे, तब सिंधिया और इनके परिवार के लोग अंग्रेजों की जूते-चप्पल उठाकर देश के साथ गद्दारी कर रहे थे। “यह वही सिंधिया परिवार है जो झांसी की रानी के नहीं हुए, वह हमारे क्या होंगे।”

भांडेर की सभा में पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने भी भाजपा की प्रदेश सरकार पर जमकर हमले बोले। उन्होंने कहा, “मुझे कभी पद का लालच नहीं रहा, मुझे मध्यप्रदेश के भविष्य की चिंता थी। मैं प्रदेश के लोगों को ऐसा प्रदेश नहीं सौंपना चाहता था, जिसमें सौदेबाजी की राजनीति हो, इसलिए मैंने अपनी सरकार बचाने व टिकाने के लिए कोई सौदा नहीं किया।”