चिराग का नितीश से सवाल – राहुल गांधी ने पीएम का अपमान किया, मुख्यमंत्री कुछ नहीं बोले, ये क्या सांठगांठ है?

429

बिहार विधानसभा चुनाव में राजनीतिक जंग जारी है. लोक जनशक्ति पार्टी के नेता चिराग पासवान की ओर से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तीखा वार किया जा रहा है. अब कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बयान के बहाने चिराग ने फिर नीतीश पर निशाना साधा है. राहुल द्वारा पीएम मोदी के पुतले जलाने को लेकर दिए बयान पर चिराग पासवान ने कहा कि राहुल बिहार में आकर ऐसी बात करते हैं, लेकिन नीतीश कुमार कुछ नहीं बोलते हैं. ऐसे में नीतीश की राहुल गांधी से क्या सांठगांठ चल रही है, जो आप चुप्पी साधे हुए हैं.

चिराग पासवान ने गुरुवार सुबह ट्वीट कर लिखा कि बिहार की धरती पर राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री के संबंध में पंजाब में हुई निंदनीय घटना का उल्लेख किया और बिहार के मौजूदा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार खामोश हैं. प्रधानमंत्री के साथ स्टेज शेयर करने को बेताब रहते हैं, मगर राहुल गांधी के इस घृणित बयान पर अपना मुंह नहीं खोलते हैं.

चिराग ने आगे लिखा कि दशहरा के पावन अवसर पर पंजाब सरकार द्वारा प्रायोजित घटना की निंदा लोजपा करती है जिसमें आदरणीय प्रधानमंत्री का पुतला दहन किया गया था. यह पंजाब की संस्कृति नहीं है और ना ही पंजाब के लोगों ने यह किया है. यकीनन इस घृणित कार्य के पीछे पंजाब सरकार का हाथ है.

इसके अलावा चिराग ने मुंगेर घटना को लेकर कहा कि मुंगेर में मां दुर्गा के भक्तों के साथ जो हुआ उसे शर्मनाक घटना कहना कम होगा. महिसासुर सरकार के इशारे पर स्थानीय प्रशासन ने कार्यवाही की. गोली बिना आदेश तो नहीं चल सकती. इस महिसासुरी व्यवस्था का वध मां दुर्गा के भक्त 10 तारीख़ को करेंगे.

गौरतलब है कि ये पहली बार नहीं है जब चिराग पासवान के नीतीश कुमार पर सीधा वार किया हो. चिराग पहले भी कह चुके हैं कि चुनाव के बाद नीतीश कुमार राजद के साथ मिल सकते हैं और एनडीए को छोड़ सकते हैं.

आपको बता दें कि राहुल गांधी ने बीते दिन अपनी सभाओं में पंजाब में हुए विरोध का जिक्र किया था. दरअसल, पंजाब के कुछ इलाकों में इस बार दशहरे पर कृषि कानून के विरोध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पुतले को जलाया गया. इसी पर राहुल गांधी ने बीजेपी पर निशाना साधा था.

दरभंगा रैली में राहुल गांधी ने कहा कि आज पंजाब का किसान गुस्से में है. पंजाब में पहली बार दशहरे के मौके पर नरेंद्र मोदी का पुतला जलाया गया. पंजाब के लोग बहुत होशियार हैं. एक तरफ उन्होंने अंबानी और अंडानी का चेहरा लगाया और बीच में नरेंद्र मोदी का चेहरा लगाया.