चेन्नई में 2015 के बाद से सबसे अधिक बारिश – कई इलाके डूबे, पुडुचेरी में भी बिगड़े मौसम के कारण स्कूल-कॉलेज बंद, IMD ने जारी किया रेड अलर्ट

    389

    चेन्नई में पिछले कुछ दिनों से हो रही भारी बारिश के बीच तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम.के. स्टालिन ने रविवार को चेन्नई, तिरुवल्लूर, कांचीपुरम और चेंगलपट्टू जिलों के स्कूलों और कॉलेजों में सोमवार और मंगलवार को दो दिन की छुट्टी की घोषणा की है. शनिवार की रात लगातार बारिश से चेन्नई में 2015 के बाद से सबसे अधिक बारिश दर्ज की गई. रात 8.30 बजे से लगातार बारिश शनिवार को सुबह पांच बजे से रविवार सुबह पांच बजे तक शहर में पानी भर गया और कई निचले इलाकों के घरों में पानी घुस गया.

    चेन्नई के पाडी, पुरसावलकम और कोलाथुर इलाकों का दौरा करने के बाद मीडियाकर्मियों को संबोधित करते हुए स्टालिन ने कहा कि भारी बारिश के बाद किसी भी आपात अभियान के लिए कर्मियों और मशीनरी को तैयार रखा गया है.

    स्टालिन ने कहा कि राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की चार टीमों को किसी भी आपातकालीन सेवा के लिए मदुरै और कुड्डालोर जिलों में तैनात किया गया है. उन्होंने यह भी कहा कि रविवार सुबह से अब तक 44 पुनर्वास केंद्रों में 50,000 भोजन के पैकेट बांटे जा चुके हैं.

    मुख्यमंत्री ने लोगों से अपनी यात्रा की योजना बनाने का आह्वान किया, क्योंकि मौसम विज्ञानियों ने अगले तीन दिनों में भारी बारिश की भविष्यवाणी की है. उन्होंने कहा कि अधिकारियों को हाई अलर्ट पर रखा गया है और राज्य सरकार के सभी विभाग आपस में समन्वय बनाकर काम कर रहे हैं. भारत मौसम विज्ञान विभाग के क्षेत्रीय केंद्र ने अगले कुछ दिनों में चेन्नई और राज्य के अन्य हिस्सों में भारी से बहुत भारी बारिश की चेतावनी दी है.