बिडेन ने ट्रंप पर साधा निशाना, कहा- हम कोरोना के साथ जीना नहीं बल्कि मरना सीख रहे हैं

    508
    President Joe Biden
    President Joe Biden

    अमेरिका की डेमोक्रेटिक पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बिडेन ने शुक्रवार को कहा कि अमेरिकी कोविड-19 के साथ जीना नहीं बल्कि मरना सीख रहे हैं। इस वैश्विक महामारी ने हाल के इतिहास में देश के सामने आई सभी परेशानियों को बौना कर दिया है। यह वायरस धीमा होता हुआ नहीं दिख रहा है।

    बिडेन ने कोविड-19 के एक भाषण पर कहा, ‘2,20,000 से अधिक अमेरिकियों की वायरस के कारण मौत हो गई है जो कि कुल वैश्विक मृत्यु का पांचवां हिस्सा है।’ अपने होम स्टेट डेलावेयर में दिए गए भाषण में वायरस के घातक प्रसार के लिए ट्रंप की नीतियों को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि इस वायरस का देश की अर्थव्यवस्था पर विनाशकारी प्रभाव पड़ा है। 77 साल के बिडेन ने कहा, ‘राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि हम किनारे तक पहुंच गए हैं। यह वायरस जाने वाला है। हम इसके साथ जीना सीख रहे हैं। यह केवल उद्धरण हैं। पर जैसा कि मैंने उन्हें कल रात को बताया हम इसके साथ जीना नहीं सीख रहे हैं। हम इसके साथ मरना सीख रहे हैं। अंधकारमय सर्दियां आने वाली हैं।’

    उन्होंने आगे कहा, ‘पहले से ही अमेरिका में 2,20,000 से अधिक लोग इस वायरस के कारण अपनी जान गंवा चुके हैं। अभी बहुत बुरा दौर आने वाला है। कोलंबिया विश्वविद्याल के एक शोध के अनुसार 1,30,000 से लेकर 2,10,000 मौतों को रोका जा सकता था। कोविड-19 ने हाल के इतिहास में हमारे द्वारा सामना की गई परेशानियों को बौना बना दिया है। इसके धीमा होने के कोई संकेत नजर नहीं आ रहे हैं। वायरस लगभग हर राज्य में बढ़ रहा है।’

    राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार ने कहा कि हमारे यहां 48 लाख से ज्यादा मामले सामने आए हैं। जब ट्रंप से इस सप्ताह पूछा गया कि वह शुरू में महामारी से निपटने के लिए क्या अलग करते तो उन्होंने कहा ज्यादा कुछ नहीं। बिडेन ने ट्रंप पर कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई के लिए कोई भी योजना न होने का आरोप लगाया। बिडेन ने कहा कि वह जितने लंबे समय तक राष्ट्रपति रहेंगे, उतनी अधिक लापरवाही होती रहेगी।

    डेमोक्रेटिक उम्मीदवार ने कहा, हमें इस प्रशासन की विफलताओं का कैदी नहीं बनना है। हम एक अलग रास्ता चुनेंगे। हम वही करेंगे जो अमेरिकियों ने हमेशा किया है। साथ आइए और धैर्य, करुणा और दृढ़ संकल्प के साथ चुनौती का सामना करें। बिडेन ने कहा कि यदि वे राष्ट्रपति चुने जाते हैं तो रणनीति के तहत वायरस से निपटेंगे।