बनारस की गंगा आरती में शामिल हुईं बंगाल की सीएम ममता बनर्जी, भाजपा कार्यकर्ताओं ने लगाया वापस जाओ के नारे

759
cm mamata attended ganga aarti in benares
cm mamata attended ganga aarti in benares

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी दो दिवसीय दौरे पर बुधवार को बनारस पहुंचीं. वह दोपहर को कोलकाता से बनारस के लिए रवाना हुईं और बनारस पहुंचने के बाद दशाश्वमेध घाट जाकर गंगा पूजन और गंगा आरती में शामिल हुईं. इस अवसर पर ममता बनर्जी गंगा घाट पर बैठी दिखाई दीं और हाथ जोड़कर ‘मां गंगा’ को नमन किया.  इस अवसर पर प्रत्येक दिन की तरह गंगा आरती का आयोजन किया गया था, जिसका ममता बनर्जी ने लुत्फ उठाया. बता दें कि ममता बनर्जी का यह पहला बनारस दौरा है और वह पहली बार बाबा विश्वनाथ मंदिर का दर्शन भी करेंगी. बनारस पीएम नरेंद्र मोदी का लोकसभा क्षेत्र भी हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बनारस पहुंचने के बाद ममता बनर्जी जब गंगा घाट की ओर जा रही थीं. उस समय उन्हें बीजेपी कार्यकर्ताओं के विरोध प्रदर्शन का सामना करना पड़ा. बीजेपी समर्थकों ने उनके खिलाफ नारेबाजी की और गो बैक के नारे लगाए और उन्हें काला झंडा दिखाया. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, ममता बनर्जी के सामने जय श्रीराम के नारे भी लगाए गये. इस अवसर पर उनकी गाड़ी पर भी थप्पड़ मारा गया. ममता बनर्जी ने इस घटना की निंदा की है और कल समाजवादी पार्टी की सभा में इसका जवाब देंगी.

ममता बनर्जी अगले दिन 3 मार्च को दिन में लगभग 10:30 बजे होटल से एढ़े गांव के लिए जाएंगी, जहां पर अखिलेश यादव के साथ संयुक्त रूप से चुनावी जनसभा को संबोधित करेंगी. जनसभा के बाद ममता बनर्जी वापस होटल आकर पार्टी पदाधिकारियों और गठबंधन के नेताओं से मुलाकात करके चुनाव पर चर्चा करने के बाद वापस जाएंगी. बता दें कि यूपी में 2 चरणों के चुनाव और बचे हैं, जिसमें से छठे चरण के लिए प्रचार कल समाप्त हो गया. इस बीच अब आखिरी चरण के लिए सभी राजनीतिक दल पूरी ताकत से चुनाव प्रचार में लगे हैं.

कोलकाता से बनारस पहुंचने के बाद ममता बनर्जी शाम को गंगा आरती में शामिल हुईं. इस अवसर पर समाजवादी पार्टी के नेता किरणमय नंदा और सपा के अ्य नेता भी उपस्थित थे.  मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार गुरुवार को ममता बनर्जी सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ रैली को संबोधित करेंगी.कल ऐढ़े में सुबह 11 बजे से संयुक्त रैली को संबोधित करेंगी.साथ ही विधानसभा क्षेत्रों में रोड शो में शामिल होंगी. बता दें कि वाराणसी में सातवें चरण का मतदान सात मार्च को है. जैसे-जैसे मतदान की तिथि नजदीक आ रही है, सभी राजनीतिक दल अपनी ताकत झोंकने में लग गए हैं. इसी क्रम में सपा और उसके गठबंधन से चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों के समर्थन में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश और बंगाल की मुख्यमंत्री ममता की संयुक्त रैली तीन मार्च को ऐढ़े में होगी.

ममता बनर्जी का यह पहला वाराणसी दौरा है. ममता बनर्जी  विधानसभा चुनाव के बाद से लगातार विरोधी पार्टियों को एकजुट करने में जुटी हैं. इसके मद्देनजर ममता बनर्जी ने दिल्ली का दौरा भी किया था, लेकिन कांग्रेस के साथ उनकी तालमेल नहीं बैठ पाई थी. ममता बनर्जी लगातार कांग्रेस पर भी हमला बोल रही है. ममता बनर्जी ने विधानसभा चुनाव के बाद मुंबई का भी दौरा किया था और वहां जाकर शरद पवार से मुलाकात की थी.