न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज Andrew Hazeldine को महज 26 साल की उम्र में हुआ कैंसर, करियर और जिंदगी दांव पर

393

एक तेज गेंदबाज जिसके पास रफ्तार और स्विंग दोनों है, एक गेंदबाज जिसके आगे बल्लेबाजों को टिकने में मशक्कत करना पड़ता है, आज उस गेंदबाज का करियर और जिंदगी दोनों दांव पर लग गई है. बात हो रही है न्यूजीलैंड के क्रिकेटर एंड्रयू हेजलडाइन की जिन्हें महज 26 साल की उम्र में कैंसर हो गया है. एंड्रयू हेजलडाइन कैंटरबरी के लिए फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेलते हैं और सितंबर के महीने में उन्हें पता चला कि वो कैंसर से पीड़ित हैं. तभी से इस क्रिकेटर का इलाज चल रहा है और अब उनका करियर और जिंदगी दोनों खतरे में दिखाई दे रहा है.

हेजलडाइन को हॉजकिन लिम्फोमा है. इस तरह के कैंसर में इम्यून सिस्टम के सेल्स पर असर पड़ता है. जैसे-जैसे ये कैंसर फैलता है उसके साथ-साथ शरीर की इंफेक्शन से लड़ने की शक्ति कम होती जाती है. इस तरह के कैंसर में बुखार, रात में पसीना आना और वजन तेजी से कम होता है. इसका इलाज भी कीमोथैरेपी या फिर स्टेम सेल ट्रांसप्लांट से होता है. बताया जा रहा है कि हेजलडाइन का कैंसर बहुत जल्दी पकड़ में आ गया है जिसके चलते उनके ठीक होने के आसार ज्यादा है.

हेजलडाइन के कैंसर पीड़ित होने पर कैंटरबरी क्रिकेट टीम ने बेहद दुख व्यक्त किया. कैंटरबरी के क्रिकेट हाई-परफॉर्मेंस मैनेजर मार्टी क्रॉय ने कहा कि ये हेजलडाइन के लिए मुश्किल वक्त है और कैंटरबरी टीम इस कड़े दौर में उनके और हेजलडाइन के परिवार के साथ खड़ी है. कैंटरबरी क्रिकेट टीम हेजलडाइन के इलाज में मदद भी करेगी.

बता दें एंड्रयू हेजलडाइन बाएं हाथ के तेज गेंदबाज हैं जो कैंटरबरी के लिए 14 फर्स्ट क्लास मैच खेल चुके हैं. साल 2018 में कैंटरबरी के लिए डेब्यू करने वाले इस तेज गेंदबाज ने 14 मैचों में 35 विकेट अपने नाम किये हैं. साथ ही उन्होंने 16 लिस्ट ए मैचों में 21 विकेट भी झटके हैं, जिसमें उनका बेस्ट प्रदर्शन 33 रन देकर 5 विकेट है. अब कैंसर की वजह से ये क्रिकेटर मैदान की जगह अस्पताल में है.