भारतीय समेत टीके की दोनों खुराक लेने वाले विदेशी यात्रियों के लिए सभी पाबंदियां हटाएगा अमेरिका

347

अमेरिका पूरी तरह से कोविड रोधी टीका लगवाने वाले भारतीय नागरिकों समेत सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए 8 नवंबर से सारी पाबंदियां हटा लेगा. हालांकि यात्रियों को विमान में सवार होने से पहले कोरोना संक्रमित न पाए जाने का सबूत दिखाना होगा. व्हाइट हाउस ने यह घोषणा की है. सोमवार को जारी ताजा यात्रा दिशा निर्देशों में जांच के बारे में नए प्रोटोकॉल भी शामिल हैं. सुरक्षा मजबूत करने के लिए टीका न लगवाने वाले यात्री चाहे अमेरिकी नागरिक, कानूनी स्थायी निवासी (एलपीआर) हों या बिना टीका लगवाने वाले विदेशी नागरिकों की छोटी-सी संख्या वाले लोग हों, उन्हें प्रस्थान करने के एक दिन के भीतर जांच करानी होगी.

प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पत्रकारों को बताया, ‘इस नयी अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा व्यवस्था के तहत विदेशी नागरिकों को अमेरिका आने के लिए पूरी तरह टीका लगवाने की आवश्यकता है. नई व्यवस्था में जांच की आवश्यकता होना, संपर्क में आए लोगों का पता लगाने की प्रणाली मजबूत होने के साथ ही मास्क लगाना भी शामिल है. देश में अमेरिकियों और अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा की सुरक्षा बढ़ाने के लिए विज्ञान और जन स्वास्थ्य पर आधारित सख्त सुरक्षा नियम हैं.’

अधिकारी ने बताया कि 8 नवंबर से गैर-नागरिक, गैर-आव्रजक हवाई यात्रियों को अमेरिका आने के लिए टीके की पूरी तरह खुराक लेनी होगी और अमेरिका आने वाले विमान में सवार होने से पहले कोविड-19 टीकाकरण का सबूत देना होगा. इसके साथ ही अमेरिका सभी देशों और क्षेत्रों के लिए सभी यात्रा पाबंदियों को हटा लेगा.

एक वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी ने बताया कि बाइडन प्रशासन यह सुनिश्चित करने के लिए एयरलाइनों के साथ निकटता से काम करेगा कि इस नयी व्यवस्था को सफलतापूर्वक लागू किया जाए. विदेशी नागरिकों की यात्रा के लिए टीकाकरण की आवश्यकता से 18 साल तक की उम्र के बच्चों को छूट दी गयी है. दो से 17 साल की आयु के बच्चों को प्रस्थान से पूर्व जांच करानी होगी.

व्हाइट हाउस ने कहा कि अगर कोई बच्चा टीके की पूरी तरह खुराक ले चुके वयस्क के साथ यात्रा कर रहा है तो वह प्रस्थान से तीन दिन पहले जांच करा सकता है. अगर टीके की खुराक न लेने वाला बच्चा अकेले या टीका न लगवाने वाले वयस्क के साथ यात्रा कर रहा है तो उन्हें प्रस्थान के एक दिन के भीतर जांच करानी होगी.