Ahemdabad Corona Curfew News: अहमदाबाद में 57 घंटे के कर्फ्यू से पहले लोगों में खौफ, बाजारों में उमड़ी भीड़

    388

    गुजरात में शुक्रवार रात 9:00 बजे से सोमवार सुबह 6:00 बजे तक पूरी तरह कर्फ्यू लागू कर दिया गया है। जिसे देखते हुए बाजारों में भीड़ उमड़ पड़ी है। दुकानमालिकों का कहना है कि, “हर कोई कोरोना मानदंड का पालन कर रहा था लेकिन दीवाली के कारण, भीड़ अधिक होने से और लोग सामाजिक दूरी बनाए रखने में सक्षम नहीं थे।” दीपावली के बाद महानगर में कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए सरकार ने यह फैसला किया है। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल तथा अन्य वरिष्ठ मंत्रियों व उच्च अधिकारियों ने चर्चा करने के बाद अहमदाबाद में शुक्रवार रात से सोमवार सुबह तक का कर्फ्यू लागू करने का फैसला किया। अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ राजीव गुप्ता ने गुरुवार देर रात्रि इसकी घोषणा करते हुए बताया कि कर्फ्यू के दौरान केवल दवा वह दूध डेयरी की दुकानें खुली रह सकेगी।

    गुजरात में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 1340 से भी अधिक के सामने आए हैं। अहमदाबाद सबसे बड़े हॉटस्पॉट के रूप में उभरा है। स्वास्थ्य विभाग तथा अहमदाबाद महानगरपालिका के कोरोना प्रबंधन तथा कोरोना जांच के बेहतर आयोजन के बावजूद दीपावली तथा नव वर्ष के दौरान शहरवासियों ने लापरवाही करते हुए बाजारों तथा सोसायटी में कोरोना गाइड लाइन का पालन नहीं किया।

    सरकार में भी दीपावली पर 2 घंटे आतिशबाजी की छूट देकर एक भारी भूल कर दी जिसके चलते लोग पटाखे लेने के लिए बाजारों में उमड़े तथा घरों में सोसाइटी में जमकर आतिशबाजी की। सरकार ने भले ही 2 घंटे की छूट दी हो लेकिन शहर वासियों ने पूरे 2 दिन तक सुबह तड़के से मध्य रात्रि तक आतिशबाजी के नजारे अहमदाबाद में देखने को मिले। सरकार प्रशासन व पुलिस यह सब मूकदर्शक बनकर देखते रहे। अहमदाबाद में शुक्रवार रात्रि 9:00 बजे से सोमवार सुबह 6:00 बजे तक पूरी तरह कर्फ्यू लागू कर दिया गया है जिसमें राशन तथा सब्जी की दुकानों को भी बंद रखना पड़ा है। केवल दवा व दूध की दुकानें ही खुली रहेंंगी।