चुनाव के नतीजों के बाद बाजार में खरीदारी, सेंसेक्स और निफ्टी में लगातार तीसरे दिन बढ़त दर्ज

200
business news

विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी के शानदार प्रदर्शन के बाद केंद्र सरकार के अपनी आर्थिक नीतियों पर बिना किसी दबाव के आगे बढ़ने के अनुमान के साथ निवेशकों ने आज बाजार में खरीदारी की. आज शेयर बाजार में लगातार तीसरे दिन बढ़त देखने को मिली है और प्रमुख इंडेक्स 1.5 प्रतिशत से ज्यादा की बढ़त के साथ बंद हुए हैं. गुरुवार के कारोबार में सेंसेक्स 817 अंक की बढ़त के साथ 55,464.39 के स्तर पर और निफ्टी 250 अंक की बढ़त के साथ 16595 के स्तर पर बंद हुआ है. आज आईटी सेक्टर को छोड़कर बाकी सभी सेक्टर इंडेक्स बढ़त के साथ बंद हुए. सबसे ज्यादा बढ़त एफएमसीजी सेक्टर में देखने को मिली है.

शेयर बाजार में आज आई बढ़त के लिये विधानसभा चुनावों के नतीजे मुख्य वजह रही है. 5 राज्यों में हुए चुनाव में बीजेपी का प्रदर्शन शानदार रहा है. उत्तर प्रदेश में पार्टी एक बार फिर अपनी सरकार बनाने जा रही है. लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश काफी अहम माना जाता है. इस सफलता से अगले चुनाव के लिये उम्मीदं बंध गई हैं. वहीं इससे निवेशकों के बीच संकेत गए हैं कि केंद्र सरकार अपनी नीतियों में आगे बढ़ सकता है. इससे निवेशकों के बीच पॉलिसी को लेकर अनिश्चितता खत्म हो गई है. बाजार के जानकारों के अनुसार नतीजों से निवेशकों के बीच संकेत गया है कि अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिये सरकार ने जो भी योजना बनाई है उसपर वो बिना किसी दबाव के आगे बढ़ेगी. इसके साथ ही एक दिन पहले कच्चे तेल की कीमतों में आई तेज गिरावट से भी राहत मिली है. बुधवार को ब्रेंट क्रूड 17 प्रतिशत तक लुढ़का था

आज के कारोबार में आईटी सेक्टर को छोड़कर बाकी सभी सेक्टर इंडेक्स में बढ़त देखने को मिली है. वहीं ब्रॉड मार्केट में निफ्टी नेक्स्ट फिफ्टी में सबसे ज्यादा बढ़त रही. इंडेक्स आज करीब 2 प्रतिशत बढ़कर बंद हुआ है. निफ्टी में प्रतिशत की बढ़त के मुकाबले निफ्टी मिडकैप 50 में 0.69 प्रतिशत और स्मॉलकैप 50 में 1.59 प्रतिशत की बढ़त देखने को मिली है. सेक्टर इंडेक्स में निफ्टी आईटी इंडेक्स 0.12 प्रतिशत की गिरावट के साथ बंद हुआ है. वहीं एफएमसीजी सेक्टर इंडेक्स में 3 प्रतिशत से ज्यादा की तेज रही है. वहीं मेटल, सरकारी बैंक, रियल्टी और कंज्यूमर ड्यूरेबल्स सेक्टर 2-2 प्रतिशत से ज्यादा बढ़कर बंद हुए हैं. बैंकिंग सेक्टर इंडेक्स, ऑटो इंडेक्स, फाइनेंशियल सर्विस सेक्टर इंडेक्स, में करीब 2 प्रतिशत की बढ़त रही.