अफगानिस्तान के कई सूबों में जंग हुई तेज, सुरक्षा बलों के हमलों में मारे गए 254 तालिबानी, 97 घायल

296

अफगानिस्तान के राष्ट्रीय रक्षा और सुरक्षा बलों (ANDSF) द्वारा देश भर के विभिन्न प्रांतों में किए गए अभियानों में कम से कम 254 तालिबान मारे गए और 97 अन्य घायल हो गए। रविवार को अफगान के रक्षा मंत्रालय ने यह जानकारी दी है। अफगान सुरक्षा बलों ने गजनी, कंधार, हेरात, फराह, जोज्जान, बल्ख, समांगन, हेलमंद, तखर, कुंदुज, बगलान, काबुल और कपिसा प्रांतों में तालिबान आतंकवादियों के खिलाफ अभियान और जवाबी हमले किए थे।

अफगानिस्तान के रक्षा मंत्रालय ने ट्वीट किया “पिछले 24 घंटों के दौरान गजनी, कंधार, हेरात, फराह, जोजजान, बल्ख, समांगन, हेलमंद, तखर, कुंदुज, बगलान, काबुल और कपिसा प्रांतों में एएनडीएसएफ के अभियानों के परिणामस्वरूप 254 तालिबान आतंकवादी मारे गए और 97 घायल हो गए। इसके अलावा, 13 IED को #ANA द्वारा खोजा और निष्क्रिय किया गया।“

यह सब उस समय हुआ है जब अमेरिका जैसे देशों ने अपने सैनिकों को वापस बुला लिया है।

पिछले कुछ हफ्तों में, तालिबान ने देश के पूर्वोत्तर प्रांत तखर सहित अफगानिस्तान के कई जिलों पर कब्जा कर लिया है। अफगान विदेश मंत्रालय के अनुसार तालिबान ने 193 जिला केंद्रों और 19 सीमावर्ती जिलों पर कब्जा कर लिया है। तालिबान ने तखर, कुंदुज, बदख्शां, हेरात और फराह प्रांतों में देश भर में 10 सीमा पार करने वाले पॉइंट्स पर भी नियंत्रण कर लिया है, जिससे इन क्षेत्रों में सीमा पार से आवाजाही और व्यापार पूरी तरह से बंद हो गया है।

इससे पहले, मंत्रालय ने आगे खुलासा किया कि 14 अप्रैल से, लगभग 4,000 ANDSF कर्मी मारे गए हैं, 7,000 से अधिक घायल हुए हैं और लगभग 1,600 तालिबान द्वारा कब्जा कर लिया गया है। हिंसा में महिलाओं और बच्चों सहित 2,000 से अधिक नागरिक मारे गए, जबकि 2,200 घायल हुए।